हिन्दू जागरण मंच ने मनाया बलिदान दिवस

हरिद्वार –हिन्दू जागरण मंच ने भगत सिंह चौक पर अमर शहीद भगत सिंह पर पुष्प स​मर्पित कर देशभर के व्यक्तियो को चेताया की हमे भी देश में बलिदानो के विचारो को अमल करना चाहिये। युवा वाहिनी के प्रदेश महामंत्री हीरा बिष्ठ ने सबोधित करते हुये कहा अमर शहीद भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव को 24 मार्च 1931 को फांसी दी जानी थी, लेकिन एक दिन पहले 23 मार्च को दी उन्हें फांसी दे दी गई थी। क्योंकि तीनों वीर सपूतों को फांसी देने का ऐलान किया जा चुका था। यह बात आग बबूला की तरह देश भर में फैल गई थी। लोग बहुत रोष थे और वे तीनों वीर सपूतों को देखना चाहते थे। तीनों को फांसी को लेकर जिस तरह से लोग प्रदर्शन और विरोध कर रहे थे, अंग्रेज सरकार घवरा गई थी। माहौल बिगड़ता देखकर ही फांसी का दिन और समय बदला गया और एक दिन पहले ही फांसी दे दी गई। 8 अप्रैल 1929 को भगत सिंह और बटुकेश्वर दत्त ने सेंट्रल असेंबली में बम फेंके। घटना के बाद भगत सिंह भागने के बजाय डटकर सामना करते रहे और खुद को अंग्रेजों के हवाले कर दिया। करीब दो साल जेल में काटने ने के बाद भगत सिंह को राजगुरु और सुखदेव के साथ फांसी पर चढ़ा दिया गया था। 8 अप्रैल, 1929 को गिरफ्तार होने से पूर्व उन्होंने स्वतंत्रता संग्राम की प्रत्येक गतिविधि में बढ़-चढ़ कर भाग लिया। 1920 में जब गांधी जी ने असहयोग आंदोलन शुरू किया,तो उस समय भगत सिंह 13 वर्ष के थे और 1929 में जब गिरफ्तार हुए तो 22 वर्ष के थे । इन 9 वर्षों में उनकी एक स्वतंत्रता सेनानी के रूप में गतिविधियां किसी भी देशभक्त से कम नहीं रही। 13 अप्रैल, 1919 को हुए जलियांवाला बाग हत्याकांड ने भगत सिंह पर गहरा असर डाला था और उसके बाद से ही वे भारत की आजादी के सपने देखने लगे। ओैर युवा साथियो के बीच में अपने विचार रखते हुये नगर महामंत्री अभिषेक चौधरी ने कहा आज 14 फरवरी को वलिदान दिवस बनाने का अवसर हम देश के युवाओ को नही छोडना चाहिए। करोडो भारतीय 14 फरवरी को कुछ युवा भाई वेलेटाइन डे मनाते है पर बहुत ही कम युवा भाई इस सच को जानते है कि इस दिन अमर शहीद भगत सिंह,राजगरू,सुखदेव इन वीर सपूतो को फासी का ऐलान कर दिया था। हम गर्व करना चाहिये भाईयो हमारे देशमें ऐसे वीर सपूतो ने जन्म लिया था हमे भी उन वीर शहीदो के विचार पर अमल कर देशभक्त की भावनाओ को जिन्दा रखना चाहिये। बैठक में उपस्थित नगर अध्यक्ष सजंय चौहान,,युवा वाहिनी जिला अध्यक्ष स्वंतत्र सैनी, वीरागना से नगर अध्यक्ष पूजा वालिया,जिला अध्यक्ष भुपेन्द्र सैनी और अन्य कार्यकर्ता बैठक में मौजूद रहे।

26

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *