डीएम ने किया मोबाइल एप के जरिए जनपद की आर्थिक गणना का शुभारंभ

पौड़ी — केंद्र और प्रदेश सरकार की महत्वपूर्ण सातवीं आर्थिक गणना का एसएएसओ सेंटर द्वारा निर्धारित मोबाइल एप के जरिए जनपद की आर्थिक गणना का शुभारंभ डीएम ने किया। डीएम ने आर्थिक गणना हेतु प्रगणकों एवं पर्यवेक्षकों को रवाना करते हुए कहा कि इस कार्य में पूरी सावधानी बरती जाए और हर क्षेत्र की सही तरीके से गणना का काम हो। इस कार्य में कोई भी व्यक्ति न छूटे इसका पूरा ध्यान रखा जाए। डीएम ने धीराज सिंह गब्र्याल ने प्रगणकों एवं पर्यवेक्षकों को निर्देशित किया कि आर्थिक गणना में विभाग द्वारा जारी गाइडलाइन के अनुसार ही कार्य करें। जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी पौड़ी संजय शर्मा ने बताया कि जनपद में चल रहे समस्त आर्थिक क्रिया -कलापों की गणना पहली बार मोबाइल एप के माध्यम से हो रही है और प्रगणक घर-घर जाकर प्रत्येक परिवार के क्रिया -कलापों की जानकारी उसमें दर्ज करेंगे। जिसकी निगरानी हेतु जीपीएस कोडिनेट फिक्स कर दिये गये हैं। बताया कि 3 चरणों में गणना को आधार बनाया जायेगा। प्रथम चरण में सालभर चलने वाले उद्योग, द्वितीय चरण में वर्ष के कुछ महीने चलने वाले तथा तीसरे चरण में छुटपुट चलने वाले उद्योगों की गणना के साथ घरों में व्यक्तिगत रूप से लाये जा रहे छोटे एवं कुटीर उद्योगों की गणना भी की जायेगी। उन्होंने बताया कि कृषि विभाग, सरकारी क्षेत्र को छोडक़र असंगठित क्षेत्र में चल रहे कार्यों की गणना इसमें सम्मिलित होगी। साथ ही नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्र के भवनों पर हाउस नम्बर न होने पर भवनों को क्रमांक दिया जायेगा। बताया कि 90 दिनों तक चलने वाली आर्थिक गणना के लिए 265 प्रगणक एवं 199 सुपरवाइजर लगाये गये हैं। जिला स्तर पर मॉनिटरिंग के लिए अर्थ एवं संख्याधिकारी एवं वरिष्ठ संख्या अधिकारी एनएसएसओ और महाप्रबन्धक जिला उद्योग की समिति का गठन किया गया है। आर्थिक गणना कार्य में यूएफएस मैप का प्रयोग किया जायेगा। इस अवसर पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दलीप सिंह कुंवर, सीडीओ हिमांशु खुराना, एडीएम डा.एसके बरनवाल, डीडीओ वेद प्रकाश आदि भी मौजूद रहे।

30

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *