सात हजार ऑपरेशन करने वाले फर्जी डॉक्टर को गिरफ्तार कर पुलिस ने भेजा जेल

Deepak Tiwari

सहारनपुर — पिछले 10 वर्षों से चला रहा था फर्जी क्लीनिक व नर्सिंग होम।
सहारनपुर पुलिस को मिली बड़ी सफलता। देवबंद के मकबरा रोड स्थित फर्जी डॉक्टर ओमपाल शर्मा को किया गिरफ्तार।

पकड़ा गया आरोपी ओमपाल शर्मा देवबंद में चला रहा था फर्जी क्लीनिक व नर्सिंग होम। अभियुक्त के परिपत्रों में पाया गया रजिस्ट्रेशन कर्नाटका मेडिकल काउंसलिंग से राजेश शर्मा के नाम से पाया गया। देखने वाली बात ही आएगी यह है कि आरोपी अभियुक्त ने इसी फर्जी नाम से केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही आयुष्मान योजना में भी रजिस्ट्रेशन कराया हुआ था। यहां स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही आ रही है सामने। यदि स्वास्थ्य विभाग सही प्रकार से जांच करता तो शायद आयुष्मान योजना के रजिस्ट्रेशन के समय ही खुल जाती फ़र्ज़ी डॉक्टर की पोल। संबंधित मामले में एसपी देहात विद्यासागर मिश्रा ने प्रेस वार्ता कर बताया कि फर्जी तरीके से नर्सिंग होम क्लीनिक चला रहे पकड़े गए अभियुक्त ओमपाल शर्मा ने बताया है कि उन्होंने करीब 7000 ऑपरेशन अब तक किए हैं। इसके अलावा ओमपाल शर्मा द्वारा देवबंद व नागल में दो नर्सिंग होम चलाना भी बताया गया है। ओमपाल शर्मा द्वारा जिस व्यक्ति के नाम से डिग्री प्राप्त कर फर्जी हॉस्पिटल चलाया जा रहा था।
वह व्यक्ति आज भी वर्तमान स्थिति में बेंगलुरु में अपना नर्सिंग होम चला रहा है। ओम पाल राजेश शर्मा के ही साथ सहायक चिकित्सक के रूप में बेंगलुरु में कार्य कर रहा था जहां से उसने राजेश शर्मा के नाम से फर्जी कागजात तैयार कराकर सहारनपुर में अपना फर्जी नर्सिंग होम खोल लिया। पुलिस द्वारा 15 दिन की गई मेहनत के बाद जांच में यह बात सामने आई की नर्सिंग होम चलाने वाला अभियुक्त ओमपाल फर्जी तरीके से नर्सिंग होम चला रहा है। ओमपाल पर मुकदमा दर्ज कर अग्रिम कार्रवाई की जा रही है जांच के बाद जो भी तथ्य सामने आएंगे उनके आधार पर अग्रिम कार्रवाई की जाएगी।

30

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *