अवैध हथियार बनाने की फैक्ट्री का भंडाफोड़, भारी मात्रा में बने अधबने बन्दूकें, तमंचे राइफल आदि बरामद

रवि उपाध्याय

मेरठ —
मेरठ पुलिस को उस वक़्त बड़ी कामयाबी हाथ लगी जब अवैध रूप से संचालित हथियार बनाने की फैक्ट्री का भंडाफोड़ करते हुए भारी तादात में हथियारों का जखीरा बरामद किया ,साथ ही हथियार बनाने के उपकरण बरामद किए ।  पुलिस ने मौके की 5 अभियुक्तो को गिरफ्तार कर लिया है । पुलिस ने बन्दूकें, राइफ़ल बने-अधबने तमंचे बरामद किए ।

दरअसल, किठौर थाना पुलिस और क्राइम ब्रांच टीम को मुखबिर की सूचना मिली कि किठौर क्षेत्र के शाहजहांपुर कस्बे में एक बन्द मकान में अवैध रूप से हथियार बनाने की फैक्टरी संचालित है , सूचना के आधार पर पुलिस टीम और क्राइम ब्रांच ने छापेमारी की , मौके पर बड़ी तादात में अवैध हथियारों का जखीरा बरामद हुआ । पुलिस ने 5 आरोपियों को मौके से गिरफ्तार किया । 2 दर्जन राइफ़ल, कंट्री मेड पिस्टल ,बने-अधबने तमंचे और हथियार बनाने के उपकरण भी बरामद किए । 


मेरठ के कस्बा किठौर अवैध असलाह बनाने का सालो से अड्डा बना हुआ है, यहां के हथियार सप्लायर के तार आईएसआई तक से जुड़े हुए पाए गए थे , कुछ माह पहले ही इनपुट के आधार पर एनआईए और एटीएस ने भी अभियान चलाकर यहां से कई संदिग्ध पकड़े थे, इसके बावजूद पुलिस गंभीर नहीं हैं । इस अवैध असलाह बनाने की फैक्ट्री पकड़े जाने पर पुलिस की कार्रवाई पर सवालिया निशान लग रहे हैं ।

प्रेस वार्ता में एसएसपी ने खुलासा करते हुए बताया कि मेरठ और आसपास के जनपदों में इन हथियारों को सप्लाई किया जा रहा था । पकड़े गए अभियुक्तो के नाम फैमुद्दीन, इमरान, मशीउल्लाह, नवेद और बाबू हैं जोकि लम्बे समय से इस गोरखधंधे को अंजाम दे रहे थे । ये लोग इन हथियारों को ऑन डिमांड मात्र 5 से 15 हजार रुपए में बेचा करते थे ।वहीं इन अवैध हथियार के सप्लायरों को और किन किन लोगों से संबंध है जिनको ये अब तक सप्लाई कर चुके हैं इसकी जांच में पुलिस जुटी हुई है । गौरतलब है कुछ माह पहले ही किठौर और आसपास के इलाकों में से एनआईए की टीम द्वारा आतंकी गतिविधियों में संलिप्त होने और आईएसआई से तार जुड़े होने के आरोप में गिरफ्तार कर चुकी है, पुलिस इससे जोड़कर भी आरोपियों से पूछताछ कर रही है ।

31

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *