बिजली बिल जमा ना करने पर किया अपमान, पिता का अपमान होते देख बेटे ने जहर खाकर दी जान

दीपक तिवारी

सहारनपुर ——
थाना बड़गांव के गांव शिमलाना में बिजली विभाग व पुलिस की टीम ने एक किसान को मात्र 28 हजार रुपये जमा न करने को लेकर इतना अपमान किया कि किसान मदन के बेटे गुलाब उर्फ जोनी ने जहरीला पदार्थ खाकर आत्महत्या कर ली किसान मदन पर बिजली विभाग के 28 हजार रुपए का बकाया था उसी बकाया भुगतान को लेने बिजली विभाग व पुलिस के कर्मचारी गांव पहुंचे और पैसा जमा करने को कहा तो किसान मदन ने 2 दिन का समय मांगा लेकिन बिजली व पुलिस वालो ने एक न सुनी ओर मदन से बतमीजी करते हुए धक्का मुक्की करने लगे अपने पिता की बेज्जती होते देख उसके बेटे जोनी ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली गुस्साए ग्रामीणों ने शव को सड़क पर जाम लगाया और पुलिस व बिजली विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी की ग्रामीणों की मांग है कि जब तक बिजली विभाग व पुलिस वालों पर कार्रवाई नहीं होगी तब तक शव का अंतिम संस्कार नहीं करेंगे

किसानों के गुस्से को देखते हुए जिले के तमाम अधिकारी भारी पुलिस बल के साथ मौके पर मौजूद है इतना ही नहीं ग्रामीणों ने एसडीएम रामपुर को बंधक बनाकर सड़क पर बैठाया और चेतावनी देते हुए कहा कि जब तक भ्रष्ट अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं होगी तब तक वह जाम नहीं खोलेंगे और ना ही शव का अंतिम संस्कार करेंगे मामला बकाया बिल का था कुछ बिजली विभाग से आदमी आए जिनमें मुख्य तौर पर जेई और उनके ठेकेदार थे जिन्होंने घर आकर धक्का-मुक्की की उसके बाद इन्होंने दबाव में आकर जहर खा लिया और जिससे उसकी मौत हो गई बकाया लगभग 28 हजार रुपये थे

31

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *