कैराना में फिर माँगी व्यापारी से रंगदारी

शामली :—- जनपद शामली के कैराना में एक बार फिर रंगदारी का जिन्न बोतल से बाहर आया है और एक ऑटोमोबाइल के स्पेयर पार्ट्स की दुकान करने वाले व्यापारी से उसकी दुकान में चिट्ठी डाल कर दो लाख की रंगदारी मांगी गई है और कहा गया है कि अगर 27 तारीख तक रंगदारी नहीं दी गई तो अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहे। व्यापारी की दुकान में रंगदारी की चिट्ठी कुख्यात बदमाश मुकीम के पिता मुस्तकीम के नाम से डाली गई है। रंगदारी की चिट्ठी मिलने के बाद से ही व्यापारी और उसका परिवार दहशत में है।

आपको बता दें कि पूरा मामला जनपद शामली के कैराना कोतवाली क्षेत्र के पानीपत – खटीमा हाईवे का है जहाँ पर विजय सिंह पथिक डिग्री कॉलेज के सामने दो सगे भाइयों हिमांशु जैन व दीपांशु जैन की जैन संस ऑटो पार्ट्स की दुकान है। स्पेयर पार्ट की दुकान के ऊपर ही उनका मकान भी हैं। वहीं दीपांशु जैन ने बताया कि रविवार की सुबह उसने करीब 8 बजे जब दुकान का शटर खोला तो शटर के नीचे एक कॉपी का पेज पड़ा मिला।

जिस पर लिखा है कि 27 तारीख तक 2 लाख का इंतजाम कर लिये मेरा आदमी आ के ले जागा नहीं तो मैं बता दूंगा, किसी से बताया तो फिर अंजाम भुगतने की सोच लिये। वहीं चिट्ठी के नीचे लिखा हैं कि मुकीम का बाप मुस्तकीम। रंगदारी की चिट्ठी मिलने से व्यापारी घबरा गया। जिसके बाद व्यापारी द्वारा पुलिस को मामले की सूचना दी गई। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर जांच पड़ताल शुरू कर दी है। वहीं स्पेयर पार्ट की बराबर की दुकान हीरो एजेंसी पर लगे सीसीटीवी कैमरे की पुलिस जांच कर रही हैं। रंगदारी की चिट्ठी मिलने के बाद से ही व्यापारी और उसका परिवार दहशत में है। वहीं पुलिस फिलहाल इस पूरे मामले को संदिग्ध मान रही है।

इस पूरे मामले पर सीओ कैराना प्रदीप सिंह ने बताया कि कैराना कोतवाली के कस्बे है जहाँ के एक व्यापारी है जिनकी दुकान में एक चिट्ठी मिली जिसमे दो लाँख रुपए की रंगदारी की बात कही गयी है। इस एंगल पर पुलिस द्वारा मौके पर जाकर सीसीटीवी फुटेज और आसपास के लोगों से पूछताछ की गई है और मामला संदिग्ध लग रहा है लेकिन सारे एंगल्स पर जांच की जा रही है क्योंकि इसमें एक अच्छे बदमाश का नाम आए हैं उस पर भी जांच होगी और इस पर सख्त से सख्त कार्रवाई होगी और जो दुकानदार है उनको कहा गया है कि वह अपनी तहरीर देकर मुकदमा पंजीकृत कराएं।

27

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *