पूर्व एमएलसी के पुत्र व ग्लोकल यूनिवर्सिटी के प्रबंधक के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज

Deepak Tiwari

सहारनपुर बेहट(यूपी) — विभिन्न मांगों को लेकर धरना दे रहे मेडिकल स्टूडेंट्स की समस्याओं पर जिला प्रशासन एक्शन मोड़ में आ गया है। डीएम के आदेश पर सीएचसी प्रभारी ने ग्लोकल मेडिकल कॉलेज के प्रबंधक के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कराया है।बता दे कि अपनी मांगों को लेकर मिर्जापुर स्तिथ ग्लोकल मेडिकल कालेज एन्ड रिसर्च सेंटर के एमबीबीएस के छात्र-छात्राएं पिछले काफी समय से आंदोलन कर रहे है। इतना ही नही स्टूडेंट्स एक सप्ताह से सहारनपुर में धरना दे रहे है जबकि कुछ स्टूडेंट्स भूख हड़ताल पर भी बैठ गए थे। मामले को लेकर जिला प्रशासन ने गम्भीरता दिखाते हुए पूरे मामले की जांच सीएमओ और उपजिलाधिकारी बेहट को सौंपी थी। मामले को लेकर एसडीएम देवेंद्र पांडे एवं सीएमओ बीएस सोढ़ी ने ग्लोकल मेडिकल पहुँचकर मामले की जांच की तो काफी अनियतमित्ता पाई गई। जिस पर सीएमओ ने सीएचसी बेहट प्रभारी डॉ नितिन कंडवाल को उक्त मामले में थाना मिर्ज़ापुर में प्रबंधक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने के निर्देश दिये थे। उच्चाधिकारियों के आदेश पर सीएचसी प्रभारी ने थाना मिर्ज़ापुर में ग्लोकल मेडिकल कॉलेज एवं सुपर स्पेशियलिटी एवं रिसर्च सैंटर के प्रबंधक मौहम्मद वाज़िद पुत्र हाजी मौहम्मद इक़बाल के खिलाफ छात्रों द्वारा फीस जमा करने के बावजूद भी दूसरे वर्ष की परीक्षा से वंचित रखने, निर्धारित फीस से अधिक फीस वसूल करने तथा एमसीआई द्वारा निर्धारित मानक न पूर्ण करने के कारण अपराध धारा 406 व धारा 420 आईपीसी के तहत मुकदमा दर्ज कराया है। आपको बता दे कि मेडिकल कालेज के प्रबंधक मौहम्मद वाजिद खनन कारोबारी व पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल के बेटे है। जबकि दूसरी तरफ मेडिकल कालेज की प्रिंसिपल पूनम वर्मा का कहना है कि कॉलेज में कोई अनियमितता नही है। पांच साल बाद मान्यता मिलती है। कुछ स्टूडेंट्स ने फीस जमा नही कराई, इसलिए कालेज पर दबाव बनाने के लिए धरना प्रदर्शन कर रहे है।

30

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *