भारतीय किसान यूनियन ने धरना प्रदर्शन कर ज्ञापन सौंपा

पंकज कुमार

शामली — शामली में भारतीय किसान यूनियन के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नाम संबोधित अपनी 14 सूत्रीय मांगों का ज्ञापन उप जिला अधिकारी शामली को सौंपा। शामली में किसान सरकार द्वारा बढ़ाई गई बिजली दरों से नाराज है और उनकी मांग है कि अन्य 7 राज्यों की तर्ज पर उत्तर प्रदेश के किसानों पर भी बिजली सिंचाई हेतु निशुल्क दी जाए। किसानों का कहना है कि बिजली बिल में वृद्धि के इस फैसले से सरकार ने किसानों की कमर तोड़ने का काम किया है।
आपको बता दें कि पूरा मामला जनपद शामली का है जहां पर भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले सैकड़ों की तादात में किसानों ने आज शामली कलेक्ट्रेट पर अपनी 14 सूत्रीय मांगों को लेकर धरना प्रदर्शन किया और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नाम संबोधित एक ज्ञापन उप जिला अधिकारी शामली को सौंपा। किसानों का कहना है कि प्रदेश का किसान काफी समस्या से जूझ रहा है और उत्तर प्रदेश में प्रत्येक किसान परिवार की आमदनी लगभग ₹4000 प्रति माह है वर्तमान में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा किसानों के बिजली बिल में वृद्धि का निर्णय किसान हितों पर कुठाराघात है और ₹4000 में एक परिवार का पालन करना असंभव है

आज उत्तर प्रदेश के लघु एवं सीमांत किसान खेती छोड़ने के लिए तैयार हैं अगर उन्हें कोई दूसरा अवसर मिले उत्तर प्रदेश में पिछले 2 वर्षों में बिजली के मूल्य में रिकॉर्ड वृद्धि हुई है यह अमृद्धि दोगुनी से भी अधिक है पिछले 2 सालों में किसानों की फसलों के दामों में उस अनुपात में वृद्धि नहीं हुई है जिस अनुपात में किसानों की उत्पादन लागत बढ़ी है बिजली बिल में वृद्धि के इस फैसले ने किसानों की कमर तोड़ने का काम किया है ग्रामीणों की मांग है कि ग्रामीण क्षेत्र में निजी नलकूप की दरों में की गई वृद्धि को वापस लेकर बिजली की दरों में कमी की जाए और देश के 7 राज्यों की तर्ज पर उत्तर प्रदेश के किसानों पर भी बिजली सिंचाई हेतु निशुल्क दी जाए और सामान्य योजना के अंतर्गत निजी नलकूपों के कनेक्शन में लाइन की लंबाई 300 मीटर से घटाकर 190 मीटर कर दी गई है जिससे किसानों पर अत्यधिक भार बढ़ गया है सामान्य योजना के अंतर्गत कनेक्शन की दी जाने वाली सब्सिडी में वृद्धि की जाए गन्ना भुगतान होने तक किसानों पर बकाया के कारण बिजली विभाग द्वारा चोरी की रिपोर्ट ना की जाए आधे अश्विनी 14 मांगों को लेकर आज और जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा।

35

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *