पत्रकार की पिटाई करने के मामले में लाइन हाजिर हुए दरोगा की कार का पेड़ से टकराकर हुआ एक्सीडेंट – शराब के नशे में धुत पाए गए दरोगा और उनके साथी – एक के पैर में फैक्चर –

Hariom giri

रूड़की – पत्रकार की पिटाई के मामले में लाइन हाजिर हुए दरोगा रणजीत तोमर की कार का गंगनहर किनारे एक पेड़ से टकराकर एक्सीडेंट हो गया है मौके पर मौजूद कुछ सूत्र बताते है की रणजीत तोमर ने बहुत ज्यादा शराब पी रखी थी कार में उनके साथ शिवम् यादव और राहुल नाम के दो साथी भी मौजूद थे जो बेहद ही शराब के नशे में दिखाई दे रहे थे सूत्र बताते है की दरोगा रणजीत तोमर को सिर और पसलियों में चोटे आई है और राहुल के पैर में फैक्चर हो गया है शिवम् यादव को ज्यादा चोट नहीं आई है बताया गया है की शिवम् यादव ही कार चला रहा था कार के पेड़ से टकराने के बाद शिवम् यादव का एयरबैग खुल गया जिस कारण उसको चोट नहीं आई है

क्षतिग्रस्त हुई कार की तस्वीरें देखकर अंदाजा लगाया जा सकता की कार बेहद तेज स्पीड में होगी गनीमत रही की देर रात होने के कारण इनकी तेज रफ़्तार कार पेड़ से टकराई शहर का कोई आम आदमी कार की चपेट में नहीं आया अगर आम आदमी कार की चपेट में आ जाता तो कार की तस्वीरें देख कर लगता है की शायद उसका बचना बहुत ही मुश्किल हो सकता था ऐसा हम इसलिए कह सकते है की गंगनहर किनारे की रोड ज्यादा चौड़ी नहीं है शराब के नशे में इस रोड पर तेज रफ़्तार से कार चलाना किसी के लिए भी जानलेवा हो सकता है

बता दे की जन्माष्टमी की रात गंगनहर कोतवाली क्षेत्र में तैनात एसएसआई रणजीत तोमर के द्वारा एक पत्रकार की अमानवीय तरीके से पिटाई की गई थी और अपने मुहं से पत्रकार के सिर पर काट लिया था जिससे पत्रकार गंभीर रूप से घायल हो गया था पत्रकार के द्वारा उच्च अधिकारियों से शिकायत करने के बाद एसएसआई रणजीत तोमर को लाइन हाजिर कर दिया गया था उच्च अधिकारियों ने पत्रकारों को और भी कार्यवाही करने का आश्वासन दिया हुआ है जिस तरह की कार्यशैली दरोगा रंजीत तोमर देखने को मिल रही है उससे यह लगता है कि इस तरह के दरोगा को कहीं भी तैनाती मिलना खतरनाक साबित हो सकता है इस तरह के दरोगा ना सिर्फ आम लोगो पर जुल्म करते है बल्कि उत्तराखंड की मित्र पुलिस की छवि को भी धूमिल करने का प्रयास करते है

36

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *