महिला सिपाही करे पुकार मेरी भी सुन लो योगी सरकार

Pankaj Kumar

शामली :—- उत्तर प्रदेश में जहां जगह-जगह से पुलिसकर्मियों द्वारा अनेकों कारणों से परेशान होकर आत्महत्या करने के मामले सामने आ रहे हैं तो वही जनपद शामली में एक महिला सिपाही का आत्हत्या करने की बात करने का वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है जिसमें महिला सिपाही इंसाफ दिलाने की गुहार लगाते हुए नजर आ रही है। वीडियो में महिला सिपाही कह रही है कि पुलिस प्रशासन उसे न्याय नहीं दिला पा रहा है और अगर उसे और उसके दो साल के बच्चे को न्याय नहीं मिला तो वह आत्महत्या कर लेगी जिसका जिम्मेदार उसका पुलिस प्रशाशन होगा।

आपको बता दें कि पूरा मामला जनपद शामली का है जहां पर जनपद शामली में ही तैनात एक महिला सिपाही का इंसाफ की गुहार लगाते हुए एक वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है जिसमें महिला सिपाही द्वारा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से गुहार लगाई जा रही है कि उसे और उसके बच्चे को इंसाफ चाहिए। उसे इंसाफ दिला दो और अगर उसे इंसाफ नहीं मिला तो वह आत्महत्या कर अपनी जान दे देगी। महिला सिपाही वीडियो में कह रही है कि वह जनपद शामली में तैनात है और वर्ष 2014 में उसका पोस्टिंग सहारनपुर में था और तभी 2014 में वहां लविंग त्यागी पोस्टिंग होकर आए थे और लविंग त्यागी ने 2015 में उसके घर पर जाकर शीतला माता मंदिर में उसके परिवार के सामने उससे शादी कर ली और खुद को अविवाहित बताया जिसके बाद 2017 में मुझे जानकारी हुई कि वह पहले से ही शादीशुदा है और उसके दो बच्चे हैं। जब यह बात उसे पता चली तो उसने इसकी शिकायत सब जगह की लेकिन कही उसकी सुनवाई नहीं हुई और जब कोई सुनवाई नहीं हुई तो उसने 156/3 में कोर्ट के आदेश पर एफ आई आर दर्ज करवाई लेकिन कोर्ट के आदेश के बाद एफ आई आर दर्ज होने पर भी अभी तक कोई कार्यवाही नहीं हुई और ना ही लविक त्यागी का सस्पेंशन किया गया और ना ही अरेस्टिंग की गई। 1 अगस्त को सदर कोतवाली क्षेत्र में उसका मुकदमा दर्ज हुआ था जिसके बाद मेडिकल की सारी कार्यवाही भी पूरी हो गई है लेकिन आज तक मेरे 164 के बयान नहीं कराए गए हैं और मुझे इधर उधर घूमने के लिए मजबूर किया जा रहा है। मेरी कोई सुनवाई नहीं हो रही है और लविक त्यागी अभी भी अपनी वर्दी पहनकर ड्यूटी पर तैनात है। लविक त्यागी द्वारा अभी भी उसे धमकी दी जा रही है कि तुझे और तेरे बच्चे के मार दूंगा। पीड़िता का कहना है कि लविक त्यागी ने उसे धोखे में रखकर और खुद को अविवाहित बताकर धोखा धड़ी कर शादी की और 5 साल से हम साथ रहते थे और उसके बाद भी लविक त्यागी उस बच्चे को बोल रहा है कि वह मेरा नहीं है। पीड़िता का कहना है कि उसका बेटा 2 साल का है और अगर उसे इंसाफ नहीं मिला तो वह आत्महत्या कर लेगी। मेरा प्रशासन मुझे आत्महत्या करने के लिए मजबूर कर रहा है। उसके आत्महत्या करने का जिम्मेदार उसका प्रशासन होगा जो लविक त्यागी को सपोर्ट कर रहा है।

वीडियो वायरल होने के बाद हमने महिला सिपाही से बात की तो महिला सिपाही ने कहा कि उसे इंसाफ नहीं मिल पा रहा है ललित त्यागी नाम के दरोगा ने उसके साथ धोखाधड़ी कर शादी की है और शादी करने से पहले वह अपने आप को अविवाहित बता रहा था लेकिन बाद में महिला सिपाही को पता चला तो वह शादीशुदा निकला पीड़ित महिला सिपाही ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भी इंसाफ दिलाने की गुहार लगाई है महिला का कहना है कि योगी जी आप सभी को इंसाफ दिलाते हैं कृपया मुझे भी इंसाफ दिल आइए और अगर मुझे इंसाफ नहीं मिला तो मैं आत्महत्या कर लूंगी जिसके जिम्मेदार मेरा पुलिस प्रशासन होगा जो कि दरोगा के पद की वजह से उसे बचाने की कोशिश कर रहा है।

पीड़िता की कहीं सुनवाई ना होने के बाद पीड़िता द्वारा कोर्ट की शरण में जाकर आरोपी दरोगा के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने की बात पर कोर्ट के आदेश के बाद 1 अगस्त को कोतवाली शामली में आरोपी दरोगा के खिलाफ 376, 420, 493, 494, 495, 496 जैसी गंभीर धाराओं में अभियोग पंजीकृत किया गया था। जिसके बाद आरोपी दरोगा को सस्पेंड कर दिया गया था और मामले की विवेचना शुरू कर दी गई थी। लेकिन पीड़िता का आरोप है कि आरोपी दरोगा ललित त्यागी को कुछ दिन बाद ही बहाल कर दिया गया और वर्तमान में वह शामली की पुलिस लाइन में तैनात है। पीड़िता का यह भी आरोप है कि उसके विभाग द्वारा दरोगा लविक त्यागी को अभी तक गिरफ्तार नही किया गया है।

वही इस पूरे मामले में पुलिस का कोई भी अधिकारी कुछ भी बोलने से बचता हुआ नजर आ रहा है।

44

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *