ऑडिट टीम के स्वागत के नाम पर शिक्षकों से वसूली रकम

शारिक जैदी

बिजनोर – जनपद बिजनोर में अवैध वसूली के चलते जहां ज़िले भर में कई पटवारी निलंबित हो चुके हैं उसके बावजूद सरकारी कर्मचारी सुधरने का नाम नही ले रहे हैं,इसी के तहत इस बार शिक्षा विभाग का एक अनोखा कारनामा सामने आया है जिसके तहत ऑडिट टीम के स्वागत के नाम पर क्षेत्र के सेकड़ो प्राथमिक विद्यालयों से रकम की वसूली विभाग के लोगो ने ही कर डाली। प्राप्त समाचार के अनुसार सोमवार को ब्लाक बुढ़नपुर में स्थित प्राथमिक विद्यालयों के ऑडिट हेतु एक आडिट टीम क्षेत्र के ग्राम बगवाड़ा स्थित बीआरसी कार्यालय पर आनी थी,जिसमे क्षेत्र के सभी प्राथमिक विद्यालयों के इंचार्ज का आना अनिवार्य था पर इसी विभाग के एनपीआरसी कर्मियों ने सभी इंचार्ज से ऑडिट टीम के स्वागत के नाम पर 300- 600 रू तक वसूली की साथ ही रकम देने वाले इंचार्ज की फाइल लेकर उनको आने से ही मना कर दिया गया,इसके अलावा कई विद्यालय इंचार्ज जिन्होंने रकम नही दी थी उनकी फाइल नही जमा की गई,जहां नाम न छापने की शर्त पर कई शिक्षकों ने इस अवेध वसूली की शिकायत की तो वहीं ग्राम लम्बिया स्थित प्राथमिक विद्यालय इंचार्ज विकास राणा ने खुलकर वहां मौजूद खण्ड शिक्षा अधिकारी (बुढ़नपुर) के सामने ही आरोप लगाते हुए खुलकर कहा की विभाग द्वारा हमेशा ही शिक्षकों से खुलकर अवेध वसूली की जाती है इसके अलावा इस बार भी सभी से 300-600रू वसूले गए हैं और मैने रकम देने से इनकार कर दिया तो मेरी फाइल ही जमा करने से मना कर दिया गया।विकास राणा द्वारा लगाए गए इन आरोपो के बाद खण्ड शिक्षा अधिकारी सतेंद्र पाल सिंह अपना मुंह छुपाते नज़र आए और आडिट टीम न आने का बहाना कर चले गए तो वहीं मामले की जानकारी पाकर बीएसए ने कहा की मामला गम्भीर है जांच कर कार्यवाही ज़रूर की जाएगी। वहीं ज़िला अधिकारी से सम्पर्क नही हो पाया पर उनके कार्यालय ने भी कड़ी कार्यवाही करने का आश्वासन दिया।

35

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *