जी का जंजाल बना अंडरपास, पानी के बीचों बीच फँस गयी पुलिस

Pankaj Kumar

शामली :—- शामली में रेलवे द्वारा बनाए गए अंडरपास लोगों के जी का जंजाल बने हुए हैं और आए दिन कोई न कोई वाहन अंडर पास में पानी भरने के कारण अंडरपास में भरे पानी में फंस जाता है ताजा मामला जनपद शामली का है जहां पर अंडरपास में भरे पानी के कारण पुलिस की जीप भी पानी में फस गई। जिसको की ट्रैक्टर बुलाकर उसकी मदद से बाहर निकलवाना पड़ा। इस दौरान पुलिसकर्मियों और ग्रामीणों को काफी मशक्कत करनी पड़ी।

दरअसल आपको बता दें कि पूरा मामला जनपद शामली का है जहां पर 3 दिन से लगातार मूसलाधार बारिश हो रही है। मामला थाना भवन थाना क्षेत्र का है जहां पर पुलिस को ग्राम नोजल में जलभराव के कारण झगड़ा होने की सूचना मिली थी। जिसकी सूचना पर थाना भवन थाना प्रभारी संदीप बालियान अपने साथी पुलिसकर्मियों के साथ अपनी सरकारी गाड़ी में सवार होकर नोजल में जाने के लिए निकले थे। जैसे ही वह नोजल मार्ग पर गांव रशीदगढ़ के नजदीक पहुंचे तो वहां पर अंडरपास में पानी भरा था। पुलिसकर्मियों ने सोचा कि पानी कम होगा और उनकी गाड़ी निकल जाएगी। लेकिन पानी ज्यादा होने के कारण पुलिस की गाड़ी अंडरपास में भरे पानी में ही फंस गई और देखते ही देखते गाड़ी में पानी भरने लगा।

पुलिस न तो नोजल गांव में पहुंच पाई और पुलिस को अपनी गाड़ी पानी से निकलवाने के लिए गांव से ट्रैक्टर बुलवाना पड़ा। जिसकी मदद से काफी मशक्कत करने के बाद ग्रामीणों और पुलिस ने पानी में फंसी जीप को बाहर निकाला और ट्रैक्टर से खिंचवा कर जीप को थाने लेकर पहुंचे। अंडर पास में पानी भर जाने के कारण जहां पुलिस की गाड़ी आज अंडरपास में फस गई तो वही वहां से आने जाने वाले लोगों को भी काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। अंडरपास में भरे पानी में वाहन फंसने का यह कोई पहला मामला नहीं है आए दिन कोई न कोई वाहन अंडरपास में भरे पानी में फंस जाता है। दरअसल रेलवे द्वारा रेलवे फाटक को खत्म कर कर अंडरपास का निर्माण कराया गया था जिनमें बारिश होते ही पानी भर जाता है।

जिसकी निकासी के लिए रेलवे ने इंतजामात भी किए हैं लेकिन वह इंतजाम नाकाम साबित हो रहे हैं और जिनकी वजह से अंडरपास में पानी भर जा रहा है। रेलवे द्वारा अंडरपास तो बनाए गए हैं लेकिन उनकी पानी की निकासी के लिए कोई स्थाई समाधान नहीं कर पाई है जिस कारण आए दिन लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है और बारिश होते ही कहीं गांव का संपर्क थाना भवन से टूट जाता है। अंडरपास में भरे पानी को निकलवाने के लिए नया दौर रेलवे द्वारा कोई स्थाई इंतजाम किए गए हैं और न ही जिला प्रशासन द्वारा इस ओर ध्यान दिया जाता है जिस कारण लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ता है।

36

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *