प्रसव को तड़पती रही महिला नही मिला बैड

Pankaj kumar

शामली – गर्भवती महिला को प्रसव पीड़ा होने पर थानाभवन सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर इलाज के लिए लाया गया। जहां उसे इलाज के लिए भर्ती करने के बाद भी बेड की सुविधा नहीं मिली। परिजनों ने स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों पर लापरवाही का आरोप लगाया।

स्वास्थ्य विभाग को सुधारने के सरकार लाख दावे कर ले, लेकिन स्वास्थ्य विभाग की लचर व्यवस्था अकसर सामने आती रहती है। ऐसा ही एक मामला जनपद शामली के थानाभवन के सरकारी अस्पताल का सामने आया है। जहां क्षेत्र के ही गांव वकील गढ़ से प्रसव पीड़ा के दौरान एक महिला को भर्ती कराया गया था। महिला को अस्पताल में भर्ती तो कर लिया गया, लेकिन महिला को भर्ती होने के बाद अस्पताल कर्मचारियों ने बेड की सुविधा नहीं दी। प्रसव पीड़ा में महिला तड़पती रही तो परिजन अस्पताल की ऊपरी मंजिल पर जाने वाले रैप पर ही महिला को लिटा कर उसकी तीमारदारी में लगे रहे।

महिला के पति ने आरोप लगाया कि जब उसने स्वास्थ्य विभाग की एंबुलेंस को फोन किया तो उन्होंने रास्ता खराब होने का बहाना बनाकर गांव में आने से मना कर दिया। जिसके बाद उन्हें अपने बाइक पर ही अपनी पत्नी को अस्पताल लेकर पहुंचना पड़ा और उसके बाद अस्पताल कर्मचारियों ने उनकी पत्नी को भर्ती तो कर लिया, लेकिन उन्हें भर्ती करने के बाद भी बेड देने से मना कर दिया। पति का आरोप है कि अस्पताल कर्मचारियों ने बेड खाली ना होना बताकर उन्हें बैड देने से मना कर दिया।

34

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *