डेड माह से ट्रांसफार्मर खराब ग्रामीणों में आक्रोश

Pankaj Kumar

शामली – डेड माह से ग्रामीणों के फूंके बिजली के ट्रांसफार्मर न बदलवाने के कारण ग्रामीणों ने ट्रैक्टर ट्रॉली में पहुंच बिजली घर पर विरोध प्रदर्शन किया। बिजली विभाग के कर्मचारियों द्वारा सुनवाई ना होने पर गन्ना राज्य मंत्री के कैंप कार्यालय पहुंच ग्रामीणों ने विद्युत विभाग पर जमकर अपना गुस्सा उतारा। ग्रामीणों को शाम तक ट्रांसफार्मर बदलवाने के आश्वासन के बाद ग्रामीणों का गुस्सा शांत हुआ।

यूं तो सरकार बिजली विभाग में बड़े-बड़े दावे करती है। लेकिन विद्युत विभाग की लापरवाही का आलम इस कदर है कि डेढ़ माह तक भी खराब पड़े बिजली के ट्रांसफार्मर को जब बिजली विभाग द्वारा नहीं बदला जाता तो आक्रोशित होकर ग्रामीणों को विरोध प्रदर्शन करने पर मजबूर होना पड़ रहा है। दरअसल पूरा मामला जनपद शामली के थानाभवन क्षेत्र के गांव हिंड के मजरे गांव जगदीशपुर का है। जहां गांव से दो दर्जन से ज्यादा महिलाओं सहित पहुँचे लोगो ने थानाभवन बिजली घर पर फूंके ट्रांसफार्मर को बदलने की गुहार लगाई। जब विद्युत विभाग ने कोई सुनवाई नहीं की तो आक्रोशित ग्रामीण गन्ना राज्य मंत्री सुरेश राणा के कैंप कार्यालय पहुंचे और उनके पीआरओ से वार्ता कर विद्युत विभाग के कर्मचारियों पर जमकर भड़के। काफी देर तक विद्युत विभाग के खिलाफ ग्रामीणों ने अपना गुस्सा उतारा।

गन्ना राज्यमंत्री के पीआरओ नरेंद्र त्यागी ने विद्युत विभाग को गांव जगदीशपुर में शाम तक बिजली ट्रांसफार्मर बदलवाने का आदेश दिया। जिसके बाद ग्रामीण शांत हुए। ग्रामीणों का आरोप है कि गांव में 25 केवीए का ट्रांसफार्मर लगा रखा है। ओवरलोड होने के कारण बार-बार फुक जाता है। उनकी मांग है कि उनके गांव में 63 केवीए का ट्रांसफार्मर रखा जाए। जिससे समस्या का हल हो सके। ग्रामीणों का आरोप है कि बिजली चले जाने के कारण उनके गांव में आए दिन चोरी हो रही है तो वहीं सर्प दंश का भी मामला सामने आया है। गांव पिछले डेड माह से अंधेरे में डूबा है। ग्रामीण पिछले डेढ़ माह से विद्युत ट्रांसफार्मर को लेकर काफी परेशान है।

29

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *