साध्वी प्राची का बड़ा बयान।

रवि उपाध्याय

मेरठ – बेबाक बयानबाजी के लिए जानी जाने वाली साध्वी प्राची ने एक बार फिर बड़ा बयान दिया है। साध्वी प्राची ने कहा कि हिंदुस्तान के इतिहास में आज हज यात्रा पर रोक नहीं लगी लेकिन आज अमरनाथ यात्रा पर रोक लगा दी गई है, इसका मतलब साफ है कि हिंदुस्तान में कुछ बड़ा होने वाला है यानी 15 अगस्त को कश्मीर में झंडा फहराने की तैयारी चल रही है। और इसका खुलासा दो-तीन दिन के अंदर हो भी जाएगा।

हरिद्वार से मेरठ के रास्ते जम्मू जा रही साध्वी प्राची ने मेरठ में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि अमरनाथ यात्रा पर जो रोक लगाई गई है उसके पीछे बड़ा उद्देश्य है, उद्देश्य है 15 अगस्त को कश्मीर में झंडा फहराने का जिसको लेकर तैयारियां चल रही हैं।

वहीं उन्होंने आजम ख़ान पर निशाना साधते हुए कहा कि आजम ख़ान तो हलाला की औलाद है। उन्होंने आजम खां को करेले की बेल और सपा को नीम का पेड़ से संबोधित करते हुए कहा कि जब पार्टी के मुखिया ही महिलाओं के अपमान करने वाले को बोलते हैं कि बच्चे हैं गलती हो जाती है तो ऐसे में आजम खान कैसे महिलाओं का सम्मान कर सकते हैं। उन्होंने सम्प्रदाय विशेष पर टिप्पणी करते हुए कहा कि इस धर्म के लिए तो महिलाएं पुरुषों की खेती हैं। उन्होंने पिछली प्रदेश सरकार यानी समाजवादी पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि पिछली सरकार में आज़म खान बरेली के तत्कालीन एसएसपी धर्मवीर यादव के साथ मिलकर मुझे मरवाने की साजिश रच रहे थे। उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ जल्द ही आजम खान को जेल के अंदर डलवाने वाले हैं।


वहीं उन्नाव कांड के आरोपी भाजपा विधायक कुलदीप सेंगर के बारे में कहा कि ऐसे कूड़ा करकट अगर भारतीय जनता पार्टी में रहेंगे तो यहां गंदगी फैल जाएगी। इसलिए सरकार ने उन्हें तुरंत पार्टी से बाहर निकाल कर काफी अच्छा निर्णय लिया और ऐसे आरोपियों पर सख्त कार्रवाई होनी चाहिए।


वहीं जिस तरीके से देश में जोमैटो कंपनी को लेकर विवाद चल रहा है उस पर साध्वी ने कहा कि मैं हिंदुओं का धन्यवाद करना चाहती हूं कि वह इस कंपनी का बहिष्कार कर रहे हैं क्योंकि यह कंपनी हिंदुओं को झूठा खिलाती है।


इसके अलावा बागपत में भड़काऊ भाषण देने पर जो साध्वी प्राची पर मुकदमें हुए हैं उन पर उन्होंने कहा कि जो लोग हिंदुओं से समान खरीदने पर रोक लगाने की बात कर रहे हैं तब प्रशासन को कुछ नहीं दिखाई दिया लेकिन जब गाय काटने वाले छुरों से कांवड़ बनाने का काम करने वाले और गाय काटने वाले हाथों से कांवड़ बेचने वाले लोगों से मैंने काँवड़ और राखी ना लेने की बात कही तो मुझ पर मुकदमा कर दिया गया। उन्होंने कहा कि मैने तो सिर्फ यही कहा कि गाय काटने वाले हाथ कांवड़ नहीं बना सकते। उनके हाथों से बनी कांवड़ शुद्ध नहीं हो सकती। उन्होंने कहा कि हिन्दुओं के दो पवित्र त्योहार होते हैं पहला कांवड़ यात्रा और दूसरा राखी का पर्व। मैं तो हिन्दुओं से कहती हूं कि दोनों पर्व पर इनकी दुकान से कोई समान नहीं खरीदा जाए।

उन्होंने कहा कि आजम खान ने बिल्कुल ठीक कहा मदरसे में योगी आदित्यनाथ या साध्वी प्रज्ञा जैसे लोग नहीं पैदा होते। मदरसे में तो जाकिर नाईक और अफजल गुरू जैसे लोग पैदा होते हैं। उन्होंने कहा कि प्रशासन तो वहीं है न। प्रशासन के भीतर कीटाणु तो बसपा और सपा वाले ही हैं। उन्होंने कहा कि नाहिद हसन हो या फिर आजम खान। जब ये बोलते हैं तो क्या हवा में आक्सीजन छोड़ते हैं। जो प्रशासन इन्हें गिरफ्तार नहीं करता। उन्होंने कहा कि साध्वी प्राची कभी भड़काऊ भाषण नहीं देती।

42

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *