कश्मीर जलता रहे और माहौल बनता रहे:– जयंत

Pankaj Kumar

शामली – शामली में एक निजी कार्यक्रम में शरीक होने पहुँचे राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) उपाध्यक्ष एवं पूर्व सांसद जयंत चौधरी ने केंद्र सरकार और योगी आदित्यनाथ पर जमकर निशाना साधा। जयंत ने कहा कि भाजपा कश्मीर की समस्या का हल नहीं चाहती है उनकी मंशा ये है कि समस्या बरकरार रहे और कश्मीर जलता रहे। कश्मीर के नाम पर भाजपा देशभर में अल्पसंख्यकों के खिलाफ माहौल बनाती रहे और फायदा उठाती रहे।

आपको बता दे कि पूरा मामला जनपद शामली का है जहाँ राष्ट्रीय लोकदल उपाध्यक्ष जयंत चौधरी कैराना रोड स्थित एक मैरिज होम में एक में निजी कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे थे जहाँ पर उन्होंने योगी आदित्यनाथ व केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा। जयंत ने कहा कि केंद्र सरकार बताए कि आज अमरनाथ यात्रा क्यों स्थगित की गई। भय का माहौल जम्मू-कश्मीर में क्यों है। आतंकवादी हमले क्यों नहीं रुक रहे। इन सभी मुद्दों पर तो भाजपा ने पूरा चुनाव लड़ा था। हम भी सरकार से सवाल करेंगे और जनता को भी सवाल पूछने चाहिए। जम्मू-कश्मीर हमारे देश का ताज है और इस ताज के साथ किसी को खिलवाड़ नहीं करने दिया जाएगा। इसमें कोई दो राय नहीं है कि कश्मीर में पाकिस्तान दखल देता आया है और अब भी दे रहा है, लेकिन सवाल ये है कि मजबूत सरकार क्या कर रही है। जयंत ने कहा कि गन्ने के दाम, भुगतान को लेकर जो वायदे भाजपा ने किए थे, वह पूरे नहीं हुए हैं। चौधरी चरण सिंह विकास निधि बनाने की बात थी, उसका भी कुछ नहीं हुआ। प्रोग्राम के दौरान जयंत चौधरी कार्यकर्ताओं से मिले और आगे की रणनीति के बारे में भी चर्चा की। उन्होंने कहा कि हमारी बहुत बड़ी हार हुई है, लेकिन हम हताश होने वालों में से नहीं है। कार्यकर्ताओं से राय ले रहे हैं कि आगे क्या और कैसे करना है।

उन्नाव कांड पर जयंत चौधरी ने कहा कि आरोपित विधायक कुलदीप सेंगर को सरकार का संरक्षण है। पुलिस महानिदेशक पीड़िता पर हुए हमले पर कह रहे थे कि प्रथम द्ष्टया एक्सिडेंट नजर आता है। भाजपा काे जवाब देना चाहिए कि विधायक को पार्टी से निष्कासित करने में इतना वक्त क्यों लगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बेटी बचाने की बात करते हैं तो उन्हें भी जवाब देना चाहिए रालोद उपाध्यक्ष जयंत चौधरी ने कहा कि रामपुर सांसद आजम खान ने अगर कुछ गलत किया है तो जरूर कार्रवाई होनी चाहिए, लेकिन किसी के चरित्र का हनन गलत है।

32

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *