पति के दुबई भाग जाने व विदेश से फोन पर पत्नी को तलाक की धमकी

विनीता खुराना

ऋषिकेश — निकाह के चार माह बाद पति के दुबई भाग जाने व विदेश से फोन पर पत्नी को तलाक की धमकी देने की शिकायत जहां बेटी के पिता ने प्रधानमंत्री से करते हुए न्याय की गुहार लगायी है वही बेटी के पति का पासपोर्ट रदद करने की मांग करते हुए प्रधानमंत्री द्वारा तीन तलाक बिल पर सहमति व्यक्त की है।उत्तराखंड के पौड़ी जिले के यमकेश्वर विधानसभा में थाना लक्ष्मण झूला क्षेत्रान्तर्गत कुनाऊ गांव में निवास करने वाले सबदर अली पुत्र स्व0 याकूब अली ने प्रधानमंत्री भारत सरकार को भेजे शिकायती पत्र में अवगत कराया था कि उसकी पुत्री गुलफशां खातून का (निकाह) विवाह मोइन पुत्र अब्दुल इस्लाम निवासी बड़ा मुवाना, जिला मेरठ, उत्तर प्रदेश के साथ बीते 24 अप्रैल 2016 को हुआ था तब से बेटी के ससुराल के लोगो द्वारा उसकी बेटी को और दहेज लाने के लिये मारपीट व गालीगलौज कर प्रताड़ित किया जाने लगा, जिसकी जानकारी गुलफशा ने अपने पिता सफदर को दी, पिता ने भी बेटी के घर-संसार को बसाने के लिए कई बार बेटी के ससुराल पहुंच कर सुलह-समझौता कर समझाने का प्रयास भी किया, लेकिन बेटी के ससुराल वाले नही माने, जिसके बाद वह अपनी पुत्री को वापस अपने घर ले आया।सबदर अली ने बताया कि जब वह अपनी बेटी को घर वापस लेकर आया तो उसके बाद गुलफशां का पति मोईन विदेश (सऊदी अरब) चला गया, जिसके बाद से मोईन पत्नी गुलफशां को फोन पर तलाक देने की बात कह रहा है साथ ही रिस्तेदारों के माध्यम से भी तलाक का दबाव बनाया जा रहा है, वही मोईन ने गुलफशां को तलाक देने के लिए इंटरनेट का इस्तेमाल कर वीडियो कॉलिंग के द्वारा आमने-सामने आकर तलाक देने की पेशकश की है।सबदर अली ने पुत्री के दुख को देखते हुए प्रधानमंत्री को पत्र के माध्यम से बताया कि उसके सात बच्चे है जिनमें से पांच बच्चे पढ़ाई कर रहे है जिससे उसकी आर्थिक माली हालत सही नही है सबदर अली ने प्रधानमंत्री से उक्त मामले में निवेदन करते हुए अपील करी की है कि उसके दामाद मोईन का पासपोर्ट रदद् कर आवश्यक कार्यवाही करते हुए उसकी पुत्री को न्याय दिलाया जाये। वही सबदर अली की पुत्री गुलफंशा ने भी न्याय की गुहार लगाते हुए पुनः घर बसने की आस लगायी है।

28

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *