मीट व्यापारियों ने भाजपा सरकार पर बेरोजगार करने का आरोप लगाया, पुलिस ने मीट व्यापारियों के लाईसेंस निरस्तीकरण की रिपोर्ट भेजी

शारिक जैदी

बिजनौर/नहटौर – भाजपा सरकार में मीट व्यापारियों को निशाना बनाने के साथ उन्हें बेरोजगार करने का सिलसिला जारी है। पुलिस प्रशासन ने नगर के मीट व्यापारियों पर लाईसेंस की आड में अवैध रूप से पशु कटान करने का आरोप लगाते हुए 13 मीट की दुकानों के लाईसेंस निरस्तीकरण के लिए जिला खाद्यय निरीक्षक को रिपोर्ट भेजी है। लाईसेंस निरस्तीकरण की प्रक्रिया शुरू होने पर दुकानदारों में हड़कम्प मचा हुआ है।प्रशासन ने नगर में पशुओं के मीट बेचने के लिए नवाब अहमद, शमशाद अहमद, सरदार अहमद, नासिर, शकील, लईक अहमद, शादाब आलम, मो0 यूसुफ, साजिद अहमद आदि 13 दुकानदारों को लाईसेंस जारी किये थे। नगर में पशु कटान का कोई लाईसेंस नहीं हैं। दुकानदारों को बाहर से मीट लाकर दुकानों पर बेचने के निर्देश हैं। पुलिस के मुताबिक नगर में अवैध रूप से पशु कटान के कई मामले दर्ज हो चुके हैं। आयेदिन पशु कटान की सूचना मिलती रहती हैं। पशुओं को बिना जांच पड़ताल के काटकर लोगों की जान से खिलवाड़ किया जा रहा है। पशु कटान करते हुए एक लाईसेंस धारक दुकानदार कुछ दिन पहले ही पकड़ा जा चुका है। जिसका पुलिस ने सम्बन्धित धारा में चालान कर दिया था। नगर में अवैध रूप से कटान की छापामारी होने पर आसपास के गांवों में अब इस काम को अंजाम दिया जाने लगा है। कुछ दिन पूर्व पुलिस ने गांव सदरूदीनगर से भी भारी मात्रा में गौकशी पकड़ी थी। दुकानों के निरीक्षण के दौरान साफ सफाई नहीं होने जैसी कई अनियमित्ताएं भी मिली हैं। लाईसेंस की आड़ में अवैध रूप से पशु कटान किया जा रहा है। लाईसेंस धारक दुकानदारों के खिलाफ कार्रवाई होने का पता चलने पर उनमें हड़कंप मचा हुआ हैं। शहर इंचार्ज आशीष तोमर ने बताया कि नगर के सभी मीट की दुकानदारों के लाइसेंस निरस्तीकरण की रिपोर्ट भेजी गई है शीघ्र ही सभी लाइसेंस निरस्त हो जाएंगे। इधर मीट व्यापारियों का कहना है कि भाजपा सरकार मीट व्यापारियों के खिलाफ समय समय पर षड़यंत्र रचकर उन्हें बेरोजगार बनाने में तुली हुई है इसके अलावा पुलिस प्रशासन उन्हें परेशान करता रहता है अब प्रशासन ने उनके लाईसेंस निरस्तीकरण की प्रक्रिया की है जो मीट व्यापारियों के साथ अन्याय है। उन्होने जिलाधिकारी से लाईसेंस निरस्त न करने की मांग की है। अन्यथा न्यायालय का दरवाजा खटखटाने की चेतावनी दी है।

41

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *