मोदी के ध्यान के बाद केदार में अब बनेगी ध्यान गुफाये

कुलदीप रावत

देहरादून – प्रधानमंत्री के केदारनाथ में ध्यान गुफा में ध्यान करने के बाद उत्तराखंड पर्यटन विभाग के पास ध्यान गुफा के मांग में जबरदस्त इजाफा हो गया है जिस के बाद अब उत्तराखंड पर्यटन विभाग केदारनाथ में नयी ध्यान गुफाये बनाने जा रहा है केदारनाथ धाम आने वाले श्रद्धालुओं को जल्द एक और नई गुफा ध्यान करने के लिए मिलेगी। शासन स्तर पर इसके लिए तैयारियां शुरू हो गई हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ध्यान गुफा में ध्यान करने के बाद उस गुफा की लगातार मांग बढ़ी है और उसकी बुकिंग फुल हो गई है। ऐसे में अब प्रशासन ने एक और नई गुफा बनाने का फैसला किया है। ताकि श्रद्धालुओं को ध्यान करने के लिए एक और गुफा मिल सके।हिमालय की गोद मे बसे उत्तराखंड राज्य को प्रकृतिक़ क्षेत्र के लिहाज से अपार संभावनाएं है। पर्यटक प्रदेश के इन खूबसूरत और शांत वादियों में समय बिताने के लिए लोग हमेशा लालायित रहते है। पीएम मोदी के केदारनाथ पहुचकर केदारनाथ से ऊपर बनी ध्यान गुफा में रुकने के बाद अब ध्यान गुफा में रुककर मेडिटेशन करने के इच्छुक श्रद्धालुओं में काफी इजाफा हो रहा है। आलम यह है कि मौजूदा समय मे आगामी दो महीने तक ध्यान गुफा ऑनलाइन बुक कर ली गयी है। जिसे देखते हुए पर्यटन विभाग ने एक और ध्यान गुफा बनाने का फैसला लिया है। बीते 18 मई को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के केदारनाथ धाम में दर्शन करने और केदारनाथ धाम में बनी ध्यान गुफा में साधना की थी। जिससे न सिर्फ केदारनाथ में बल्कि बद्रीनाथ में भी श्रद्धालुओं की तादात में काफी इजाफा हुआ हैं, देवभूमि उत्तराखंड धार्मिक महत्व के साथ-साथ आम पर्यटको के आकर्षक का केंद्र बन गया है। और अब सैलानी केदारनाथ में बनी ध्यान गुफा में रूककर ध्यान लगाना चाहते है। हालांकि केदारनाथ और बद्रीनाथ में 18 मई को प्रधानमंत्री के दौरे के बाद यात्रियों में काफी बढ़ोतरी हुई हैं।

पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर ने बताया कि केदारनाथ धाम को डिवेलप करने के लिए जो मास्टर प्लान बनाए गए हैं उसी में एक कंपोनेंट ये भी था कि जो भी श्रद्धालु केदारनाथ में ध्यान या आराधना करना चाह रहे है उनके लिए केदारनाथ में ही छोटी सी गुफा बनाई गई थी। और उसी गुफा में बीते दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक रात बिताया था और वह ध्यान लगाया था जिसके बाद ध्यान गुफा में रुकने के लिए काफी श्रद्धालुओं की डिमांड है, और अगले 2 महीने तक के लिए इसकी बुकिंग क्वालिटी फुल हो चुकी है। भोले बाबा के पवन धाम में स्थित गुफा में रुकने की श्रद्धालुओं में बढ़ती डिमांड को देखते हुए रुद्रप्रयाग के जिलाधिकारी से संबंध में वार्ता की गई हैं कि साथ ही कोई और गुफा अगर बनाई जा सकती है तो उसे भी बनाया जायेगा। ताकि बाबा के धाम में ध्यान लगाने वाले ज्यादा से ज्याद यात्रियों को इसका लाभ हो सके। जिसके चलते जिलाधिकारी ने दो स्थानों को चिन्हित कर लिया है और जल्द ही शासन स्तर से एक टीम इन स्थानों का निरीक्षण करेगी और अगर इन दोनों जगह में से कोई भी जगह सूटेबल होती है, तो उस स्थान पर भी केदारनाथ की तरह ही गुफा बनाने का प्रयास किया जाएगा।

44

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *