पानी की किल्लत से जूझ रहे ग्रामीणों का कलक्ट्रेट में प्रदर्शन

बागेश्वर – गर्मी का प्रकोप बढऩे के साथ ही जिले के विभिन्न हिस्सों में पेयजल का संकट गहराता जा रहा है। लंबे समय से पानी की किल्लत से जूझ रहे सैम मंदिर वार्ड के बिनवाल तेवाड़ी और जुल्किया तोक के ग्रामीणों का गुस्सा कलक्ट्रेट में फूट पड़ा। बड़ी संख्या में ग्रामीणों ने प्रदर्शन कर पेयजल मुहैया कराने की मांग की। इस दौरान उन्होंने जिले की प्रभारी मंत्री को ज्ञापन देकर समस्या का समाधान नहीं होने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी।
जुल्किया, बिनवाल तेवाड़ी और आसपास के कई घरों में जखेड़ा पेयजल योजना से पानी की आपूर्ति की जाती है। एक साल से यहां के लोगों को पीने का पानी नहीं मिल रहा है। ग्रामीणों ने बताया कि तीसरे या चौथे दिन नल में पानी आता है। वह भी कुछ देर तक ही चलता है। जिससे लोगों को पेयजल किल्लत का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने बताया कि लाइनमैन, जेई और ईई समेत सभी को समस्या सुनाई गई। कई बार लिखित ज्ञापन भी दिया, इसके बाद भी उनकी परेशानी जस की तस बनी है। इस दौरान उन्होंने कहा कि विभाग नियत समय पर बिल थमा देता है, लेकिन पानी की आपूर्ति नहीं की जाती। आक्रोशित ग्रामीणों ने गुरुवार को प्रभारी मंत्री की बैठक के दौरान जिलाधिकारी कार्यालय परिसर में प्रदर्शन कर नारेबाजी की। उन्होंने जल्द व्यवस्था सही नहीं होने पर उग्र आंदोलन करने की चेतावनी भी दी। यहां दान सिंह मटियानी, मुकुल बलसूनी, दीपक जोशी सहित ग्रामीण महिलाएं मौजूद रहीं।

22

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *