पछुवादून से लेकर जौनसार बावर तक लेखपाल व राजस्व उपनिरीक्षकों ने किया कार्य बहिष्कार

विकासनगर – संग्रह अमीनों को नायब तहसीलदार पद पदोन्नति में छह प्रतिशत कोटा दिए जाने के खिलाफ राजस्व कर्मियों में आक्रोश व्याप्त है। पछुवादून से लेकर जौनसार बावर तक लेखपालों और राजस्व उपनिरीक्षकों ने दो घंटे का कार्य बहिष्कार किया है। जिसके चलते विकासनगर, कालसी, चकराता, त्यूणी तहसीलों में दो घंटे तक कामकाज प्रभावित रहा। लेखपालों और राजस्व कर्मियों के कार्य बहिष्कार के चलते लोगों के कामकाज नहीं हो पाये। जिससे लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। विकासनगर तहसील परिसर में लेखपालों ने प्रदर्शन कर धरना दिया। इस दौरान लेखपालों ने शासन प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। संग्रह अमीनों को नायब तहसीलदार पद पर पदोन्नति में छह प्रतिशत कोटा दिए जाने के खिलाफ पहाड़ से लेकर मैदान तक राजस्व कर्मियों में आक्रोश फैला हुआ है।

विकासनगर में लेखपालों ने दस बजे से लेकर दो बजे तक कार्य बहिष्कार कर तहसील परिसर में धरना प्रदर्शन किया। इस दौरान लेखपालों ने शासन प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। तहसील परिसर विकासनगर में धरना प्रदर्शन कर रहे लेखपालों ने कहा कि राज्य सरकार ने संग्रह अमीनों का नायब तहसीलदार पद पर पदोन्नति के लिए छह प्रतिशत कोटा निर्धारित कर लेखपालों और राजस्व उपनिरीक्षकों के हकों पर सीधा डाका डाला है। जिसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है। लेखपालों और राजस्व उपनिरीक्षकों का नायब तहसीलदार पद पर पदोन्नति में सीधा हक बनता है। लेकिन उनके हकों को छीनकर संग्रह अमीनों का कोटा निर्धारित किया गया है। जब तक संग्रह अमीनों को दिया गया छह प्रतिशत कोटा समाप्त नहीं किया जाता है तब तक आंदोलन जारी रहेगा। इसके बावजूद सरकार नहीं मानती है तो व्यापक स्तर पर प्रदेशव्यापी आंदोलन किया जायेगा।

धरना प्रदर्शन करने वालों में मंगू सिंह, जगदीश कुमार, अरविंद, सरदारसिंह चौहान, आनंद सिंह, रामभोज शर्मा, संगतसिंह सैनी, राजकुमार , अब्दुल हसन,भोला सिंह, शोभाराम, रमेश चंद्र जोशी आदि शामिल रहे। उधर कालसी तहसील में भी राजस्व उपनिरीक्षकों ने कार्य बहिष्कार किया। जिसके चलते ग्रामीण क्षेत्रों से आये लोगों के तहसील से संबंधित कामकाज प्रभावित रहे। लोगों को बैरंग लौटना पड़ा। कार्य बहिष्कार करने वाले राजस्व उपनिरीक्षकों में सुखदेव जिनाटा, प्रदीप, मीनाक्षी शाह, सुनंदा, मोतीलाल, राधेश्याम, साधूसिंह आदि शामिल रहे। चकराता तहसील के राजस्व उपनिरीक्षकों ने भी कार्य बहिष्कार किया। कार्य बहिष्कार करने वालों में सुखदेव, राधेश्याम, जीवनसिंह तोमर, जगतराम शर्मा, ईश्वरीदत्त आदि शामिल रहे। त्यूणी तहसील के राजस्व उपनिरीक्षकों ने कार्य बहिष्कार किया। कार्य बहिष्कार में जिलाध्यक्ष तिलकराम, विनोद भंडारी, अनिल चौहान, श्यामसिंह तोमर, कमलेश शर्मा आदि शामिल रहे।

34

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *