दस हत्याओं में वांछित दो लाख का ईनामी बदमाश एसटीएफ ने धर दबोचा

देहरादून – उत्तर प्रदेश के दो लाख के ईनामी बदमाश को एसटीएफ द्वारा कड़ी मशक्कत के बाद गिरफ्तार करने में सफलता हासिल हुई है। आरोपी बदमाश हिमाचल व उत्तराखण्ड को लम्बे समय से अपनी शरणस्थली के रूप में इस्तेमाल कर रहा था जिस पर कई हत्याओं सहित बलवा, गैगंस्टर जैसे 29 मुकदमें पंजीकृत है। गिरफ्तारी के समय पुलिस ने उसके पास से एक स्वचलित पिस्टल, चार मैगजीन व 57 जिन्दा कारतूस भी बरामद किये है।

पुलिस उपमहानिरीक्षक एसटीएफ रिध्रिम अग्रवाल ने बताया कि पिछले कुछ समय से एसटीएफ को सूचनाएं मिल रही थी कि उत्तर प्रदेश के कुछ शातिर व ईनामी बदमाशों ने उत्तराखण्ड को शरणस्थली बनाया हुआ है। इन सूचनाओं पर कार्यवाही करते हुए जब एसटीएफ ने जांच शुरू की तो इस दौरान पता चला कि उत्तर प्रदेश का एक ईनामी अपराधी कौशल कुमार निवासी बलिया देहरादून के रायवाला में शरण लिये हुए है जिसे कल देर रात हरिद्वार रोड से गिरफ्तार कर लिया गया। जो अपने बेटों से मिलने दून आ रहा था। गिरफ्तारी के समय एसटीएफ ने उसके पास से एक स्वचलित पिस्टल, 4 मैगजीन व 57 जिन्दा कारतूस भी बरामद किये है। दो लाख के इस ईनामी अपराधी कौशल कुमार के बारे मे पता चला कि वह उत्तर प्रदेश के बलिया जिले में सरकारी नौकरी करता था। जिसका गांव में प्रधानी को लेकर झगड़ा हुआ और उसने अपराध की दुनिया में कदम रख दिया। बताया जा रहा है कि इस दौरान उसने कई हत्याओं की घटनाओं को अंजाम देकर सनसनी फैला दी। कौशल चौबे का एक बेटा भी पुलिस मुठभेड़ में मारा जा चुका है। पूछताछ में पता चला कि कौशल चौबे 2004 से ही फरार चल रहा था। इस दौरान वह हरिद्वार, शिमला, मसूरी, टिहरी व रायवाला क्षेत्रों में भी रहा और ठेकेदारी करता रहा। उसने बताया कि यूपी एसटीएफ ने इस दौरान उसे दो बार दबोचने का प्रयास जरूर किया लेकिन वह उनके हत्थे नहीं चढ़ा। बहरहाल दो लाख के इस ईनामी बदमाश को उत्तराखण्ड एसटीएफ ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

27

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *