गंगा में डुबकी लगाकर श्रद्धालुओं ने की कष्टों से मुक्ति की कामना

ऋषिकेश – बुद्ध पूर्णिमा पर तडक़े से ही गंगा घाटों पर स्नान को भीड़ रही। श्रद्धालुओं ने गंगा में डुबकी लगाकर भगवान विष्णु की पूजा कर कष्टों से मुक्ति की कामना की। उन्होंने ब्राह्मणों और गरीबों को भोजन भी कराया। करीब पचास हजार से अधिक श्रद्धालुओं ने शनिवार को गंगा में डुबकी लगाई। तडक़े से ही तीर्थनगरी के त्रिवेणीघाट, बहत्तर सीढ़ी घाट, रामझूला, लक्ष्मणझूला, सीता, परमार्थ और गीता भवन घाट पर स्नानार्थियों की भीड़ रही। भीड़ के चलते स्नानार्थियों को स्वर्गाश्रम घाट पर स्नान को इंतजार करना पड़ा। घाटों पर शाम तक स्नान का सिलसिला चला। चारधाम यात्रा के कारण भी ऋषिकेश में भीड़ रही। बुद्धा पूर्णिमा पर भगवान बुद्ध और विष्णु की पूजा कर कष्टों के हरण को पूजा की जाती है। ज्योतिष डॉ. चंडीप्रसाद घिल्डियाल ने बताया कि बुद्ध पूर्णिमा पर गंगा में स्नान के बाद कर्ज मुक्ति को भगवान विष्णु की पूजा करने के साथ ब्राह्मणों और गरीबों को दान करते है। बताया कि इस दिन जल, दूध, खीर, वस्त्र, फल दान किया जाता है। दान से परिवार के कष्ट दूर होते है।

28

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *