डिप्टेश्वर और कुर्म सरोवर की डीपीआर बनाने की तैयारियाँ शुरू

चम्पावत – डिप्टेश्वर और कुर्म सरोवर का निर्माण एक कदम और आगे बढ़ा है। दोनों झीलों की डीपीआर बनाने की तैयारी तेज हो गई है। इस संबंध में सिंचाई विभाग के मुख्य अभियंता ने दोनों झीलों का स्थलीय निरीक्षण किया। छ: माह में डीपीआर पूरी हो जाने की उम्मीद की जा रही है। कुर्म सरोवर और डिप्टेश्वर झील की घोषणा सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने की थी। विधायक कैलाश गहतोड़ी के प्रयास से दोनों झीलों की डीपीआर निर्माण के लिए अगस्त 2018 में 37.08 लाख रुपये अवमुक्त किए गए थे। डीपीआर बनाने का जिम्मा सिंचाई विभाग को दिया गया था। इसके बाद दोनों झीलों का भूगर्भीय सर्वेक्षण करने के साथ ही दो बार जल स्तर भी नापा गया था। झील बनाने का मकसद पर्यटन को बढ़ावा देने के साथ ही पेयजल और सिंचाई के साधन उपलब्ध कराना है।इस संबंध में शनिवार को सिंचाई विभाग के मुख्य अभियंता मोहन पांडेय ने दोनों झीलों का निरीक्षण किया। अनुमान के मुताबिक करीब दो करोड़ रुपये से छ: सौ मीटर लंबा और तीस मीटर चौड़ा कुर्म सरोवर बनाया जाना है। जबकि तीस करोड़ रुपये की लागत से डेढ़ किमी लंबी और 50 मीटर चौड़ी डिप्टेश्वर झील बनाई जानी प्रस्तावित है।

20

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *