जहरीली शराब काण्ड में ढाई महीने बाद भी मृतकों के परिजनों को मुआवजा नहीं मिलने पर भड़की विद्या गौतम – आंदोलन की चेतावनी

हरिओम गिरी / खटाना बुलेटिन

रूड़की – जहरीली शराब कांड के ढाई महीने बाद भी मृतकों के परिजनों को मुआवजा नहीं मिलने पर अखिल भारतीय आंबेडकर महासभा की राष्ट्रीय अध्यक्ष और बहुजन समाज की तेजी से उभरती नेता विद्या गौतम भड़क गई है उन्होंने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा है की पीड़ितों को अगर जल्द ही घोषित किया गया मुआवजा नहीं दिया गया तो वो जल्द बड़ा आंदोलन करेंगी और अगर उनके आंदोलन अव्यवस्थित होता है तो उसकी जिम्मेदार उत्तराखंड की सरकार होगी


शुक्रवार को विद्या गौतम अपने कुछ समर्थको के साथ अचानक ही बिंदु खड़क गाँव पहुंची और मृतकों के परिजनों से मुलाक़ात कर कई तरह की बीमा योजनाओ की जानकारी उन्हें दी जिसमे उन्होंने एटीएम कार्ड धारक को एक लाख रूपये तक का बीमा होने की जानकारी दी उन्होंने मृतक के परिजनों से पूछा की मृतकों में अगर कोई भी एटीएम का इस्तेमाल करता था और मृत्यु से करीब 20 दिन पहले उसका एटीएम इस्तेमाल हुआ है तो उसके परिवार को एक लाख रूपये की बीमा राशि मिल जायेगी और अगर वो गन्ना समिति में सदस्य था तो उसके परिवार को तीन लाख रूपये बीमा राशि मिलती है विद्या गौतम ने मृतकों के परिजनों को इसी तरह की कई जानकारी दी और उनसे सभी तरह की बीमा राशि के साथ ही सरकार के द्वारा घोषित मुआवजा राशि भी दिलाने का आश्वासन दिया 


बता दे की फ़रवरी माह में जहरीली शराब पीने से क्षेत्र के कई गाँव के करीब पचास लोगो की मौत हो गई थी जिसके बाद सरकार ने सभी मृतकों के परिजनों को दो दो लाख रूपये मुआवजा राशि देने की घोषणा की थी लेकिन ढाई महीने बाद भी मृतकों के परिजनों को मुआवजा राशि नहीं मिल पाई है जिससे ग्रामीणों में काफी रोष है इस जहरीली शराब काण्ड में मरने वाले सबसे ज्यादा लोग बिंदु खड़क गाँव के ही थे जिनकी संख्या 18 थी 

कौन है विद्या गौतम 
विद्या गौतम बहुजन समाज की तेजी से उभरती नेता है जो देश के कई राज्यों में कई बड़े आंदोलन कर चुकी है अपने आंदोलन के जरिये कई बार उन्होंने सरकारों को झुकने पर मजबूर किया है और पीड़ित लोगो को इन्साफ दिलाया है विद्या गौतम लाइम लाइट रहने की बजाये जमीन पर लोगो के लिए काम करने पर विश्वाश रखती है 

68

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *