पुलिस से बिना इन्साफ मिले ही लौट गई पीड़ित छात्रा – रैगिंग और छेड़छाड़ का लगाया था आरोप – जानिए क्या है मामला ?

हरिओम गिरी / खटाना बुलेटिन

रूड़की – रूड़की इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी में अपने सीनियर छात्रों पर रैगिंग करने और एक छात्र पर छेड़छाड़ का आरोप लगाने वाली छात्रा को ना तो कॉलेज प्रशासन से इन्साफ मिला और नाही रूड़की की भगवानपुर पुलिस से तीन दिन से इन्साफ की मांग कर रही पीड़ित छात्रा को इसीलिए मायूस होकर वापस लौटना पड़ा है पीड़ित छात्रा ने कॉलेज के साथ साथ भगवानपुर पुलिस पर भी कार्यवाही नहीं करने और झूठ बोलने के आरोप लगाए है छात्रा का कहना है की कॉलेज में जो उनके साथ घटना हुई है उसकी शिकायत उन्होंने लिखित में भगवानपुर पुलिस को दी थी लेकिन पुलिस कार्यवाही करने की बजाये झूठ बोल रही है पुलिस का कहना है की उनको लिखित शिकायत नहीं मिली है जबकि मेने खुद पुलिस को लिखित शिकायत दी है छात्रा ने कहा की पुलिस से उन्हें इस तरह की उम्मीद नहीं थी 

पीड़ित छात्रा ने कॉलेज के प्रति नाराजगी जताते हुए कहा की वह इस कॉलेज से बहुत नाखुश है कॉलेज में किसी ने भी उनका साथ नहीं दिया है पीड़ित छात्रा ने कॉलेज प्रशासन पर मुकदमो में फंसाने की धमकी देने का भी आरोप लगाया है छात्रा का कहना है की जब उनके साथ बातचीत की जा रही थी तो उन्होंने अपनी फीस वापसी की मांग की तो तभी उन पर अन्य छात्राओं के द्वारा मुक़दमे कराने की बात कहकर दबाव बनाने की कोशिश की गई छात्रा ने कहा की कॉलेज में जब से उन्हें परेशानी हुई थी वो तभी से कॉलेज से नाखुश थी इसीलिए उन्होंने कॉलेज को छोड़ दिया है 

बता दे की रूड़की इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी में बीटेक प्रथम वर्ष की झारखंड निवासी एक छात्रा ने तीन दिन पहले अपने सीनियर छात्रों पर रैगिंग करने का आरोप लगाया था जिसकी शिकायत छात्रा ने कॉलेज प्रशासन और पुलिस से की थी पुलिस से लिखित शिकायत करने की सुचना से कॉलेज हड़कंप मच गया जिसके बाद कॉलेज प्रशासन ने उन्हें अचानक ही छुट्टी पर भेजने के लिए रूड़की रेलवे स्टेशन भेजा जहाँ से ट्रेन में बैठा दिया गया लेकिन छात्रा लक्सर रेलवे स्टेशन पर उतर गई और आज कॉलेज वापस लौट आई सुचना मिलते ही भगवानपुर पुलिस भी कॉलेज पहुँच गई घंटो चली बातचीत के बाद छात्रा ने कॉलेज छोड़ दिया और वापस जाने का फैसला किया 

53

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *