24 अप्रैल को सचिवालय कूच करने का ऐलान

रुडकी – जिले में चलने वाले नौ 108 वाहन और सात खुशियों की सवारी के पहिए 24 अप्रैल को थम जाएंगे। इन वाहनों को चलाने वाले और मरीजों की देखभाल करने वाले स्टॉफ ने अपनी मांगों को 23 अप्रैल तक नहीं मानें जाने पर 24 अप्रैल को सचिवालय कूच करने का ऐलान किया है। प्रदेश के लोगों को सुविधा देने के लिए 108 वाहन सेवा और खुशियों की सवारी को राज्य सरकार ने चलाया हुआ है। इन सेवाओं को संचालित करने के लिए पूर्व में जीवीके कंपनी को टेंडर दिया गया था। लेकिन सरकार ने यह टेंडर किसी अन्य कंपनी को दे दिया है। नई कंपनी राज्य की इस सेवा में तैनात करीब 717 कर्मचारियों के वेतन में कटौती कर दी है। जबकि मार्च माह के वेतन का भी कर्मचारियों को इंतजार है। कर्मचारियों की ग्रेज्युएटी भी अभी तक कर्मचारियों को नहीं मिली है। इन सबसे नाराज 108 वाहन सेवा और खुशियों की सवारी के चालक एवं तकनीकी स्टॉफ ने आंदोलन की राह पकड़ ली है। संगठन के जिलाध्यक्ष सुमित थपलियाल, सचिव प्रदीप सेमवाल और चंद्रकांत ने बताया कि यदि 23 अप्रैल तक उनकी मांगों को नहीं माना गया । 24 अप्रैल से जिले में 108 सेवा को ठप कर सचिवालय कूच किया जाएगा। जिले में यहां से संचालित होती है 108 वाहन सेवा हरिद्वार जिले में नौ 108 वाहन वर्तमान समय में अपनी सेवा दे रहे हैं। जिसमें रुडक़ी, भगवानपुर, मंगलौर, लक्सर, खानपुर पतंजलि, सिडकुल, ज्वालापुर और सीसीआर में एक एक वाहन की तैनाती है। जबकि सात खुशियों की सवारी रुडक़ी में दो, एक मंगलौर, भगवानपुर, बहादराबाद, लक्सर और हरिद्वार में तैनात है।

20

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *