डॉ. भीमराव आंबेडकर की जयंती पर याद किया

रुडकी – बाबा साहेब डॉ. भीमराव आंबेडकर की जयंती पर उन्हें याद किया गया। वक्ताओं ने कहा कि बाबा साहेब ने दबे, कुचले और शोषित वर्गों के उत्थान के लिए काम किया। कहा कि संविधान निर्माता के बताए रास्ते पर चलकर ही देश आगे बढ़ सकता है। डॉ. भीमराव आंबेडकर समाज कल्याण समिति की ओर से नगर निगम में आयोजित कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि झबरेड़ा विधायक देशराज कर्णवाल ने कहा कि आज बाबा साहेब का सपना साकार हो रहा है। बाबा साहेब की जयंती रुडक़ी ही नहीं पूरे संसार में मनाई जा रही है और यह हमारे लिए गर्व की बात है। कहा कि डॉ. भीमराव आंबेडकर का सपना देश के प्रधानमंत्री पूरा कर रहे हैं। विधायक ने कहा कि डॉ. आंबेडकर ने हमें संविधान के रूप में जो गुलदस्ता दिया है उसमें विभिन्न प्रकार के फूल हैं। इसमें विभिन्न प्रकार की जातियां हैं और धर्म हैं। गुलदस्ते का हर फूल बहुत जरूरी है। कहा कि हम आंबेडकरवादी हैं इसलिए हमारा यह फर्ज बनता है कि हम किसी के बहकावे में न आएं। हमें सबका साथ सबका विकास की बात करनी चाहिए, तभी हम बाबा साहेब के भारत को विकसित कर पाएंगे। रुडक़ी विधायक प्रदीप बत्रा ने कहा कि बाबा साहेब के विचारों को आगे बढ़ाना होगा। विशिष्ट अतिथि पूर्व संसाद हरपाल साथी, विधायक भगवानपुर ममता राकेश, पूर्व विधायक चंद्रशेखर, राम सिंह सैनी, श्याम वीर सैनी आद ने भी विचार रखे। कार्यक्रम में झबरेड़ा विधायक को विरोध भी झेलना पड़ा। मंच से उन्होंने भाजपा सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ की। इस पर मंच पर बैठे लोगों के साथ नीचे बैठे लोगों ने विरोध जताया। कहा कि यह राजनैतिक मंच नहीं है।

दुष्कर्म पीडि़त ने की आत्महत्या
रुडकी। दुष्कर्म पीडि़त किशोरी ने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पीडि़ता ने चार दिन पहले ही एक युवक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। आरोपी की अभी गिरफ्तारी नहीं हो पाई थी। बताया जा रहा है कि पीडि़ता मानसिक तौर पर परेशान थी। मौके से एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ।
मंगलौर कोतवाली क्षेत्र की सोलह वर्षीय किशोरी ने एक युवक पर शादी का झांसा देकर एक साल तक दुराचार किए जाने का आरोप लगाया था। इस मामले में दस अप्रैल को पीडि़ता की तहरीर पर आरोपी युवक के खिलाफ दुराचार और पोक्सो ऐक्ट में मामला दर्ज किया था। किशोरी का पुलिस ने मेडिकल कराया था, जिसमें दुराचार की पुष्टि हुई थी। बताया जा रहा है कि घटना के बाद पीडि़ता मानसिक रूप से परेशान चल रही थी। परिवार के लोग उसे लगातार समझा रहे थे। रविवार दोपहर को परिवार के लोग बाहर थे। इस बीच किशोरी ने घर के कमरे में लगे पंखे में अपने दुपट्टे का फंदा बनाकर फांसी लगा ली। कुछ देर के बाद जब परिजन घर पहुंचे तो उन्होंने किशोरी का शव पंखे से लटका पाया। सूचना पर कोतवाल प्रदीप चौहान, शहर चौकी प्रभारी आमिर खान, विवेचक उप निरीक्षक रेखा पाल मौके पर पहुंचे। पुलिस ने शव को नीचे उतारा। बाद में पुलिस को एक चार लाइन का पत्र वहां से मिला। जिसे पुलिस सुसाइड नोट मान रही है। पत्र में लिखी बातों के बारे में पुलिस फिलहाल कुछ भी कहने से इनकार कर रही है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। कोतवाल प्रदीप चौहान का कहना है कि जिस युवक के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया था उसकी तलाश की जा रही है। उसके घर पर पुलिस ने दबिश दी लेकिन वह फरार है। बताया कि आरोपी का नाम अमन है।

88

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *