पटरी से उतरी शहर की ट्रैफिक व्यवस्था

ऋषिकेश – शुक्रवार को पर्यटकों की भीड़ बढऩे पर शहर की ट्रैफिक व्यवस्था पटरी से उतर गई। इससे पर्यटकों को घंटों जाम में फंसना पड़ा। नीलकंठ मार्ग वाहनों का दबाव बढऩे से एक घंटे बाधित रहा। हाईवे पर भी दिनभर वाहन रेंगकर चले। झूला पुल पार करने में भी पर्यटकों के पसीने छूटे। पुलिस के चुनाव ड्यूटी में जाने से यह दिक्कत आई। इन दिनों पर्यटकों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। ऋषिकेश, स्वर्गाश्रम, कौडिय़ाला, शिवपुरी और आसपास के क्षेत्र पर्यटकों से अटे पड़े है। शुक्रवार को जाम से पर्यटक और स्थानीय लोग परेशान रहे। शहर की यातायात व्यवस्था संभालने वाले होमगार्डों के चुनाव ड्यूटी में जाने से व्यवस्था अधिक चरमराई। करीब दो दर्जन से अधिक होमगार्ड शहर की यातायात व्यवस्था संभालते है। शहर के त्रिवेणी घाट, बैराज मार्ग, चौदहबीघा, तपोवन, लक्ष्मणझूला, रामझूला में स्थिति विकट रही। यहां सडक़ किनारे वाहन खड़े होने के कारण दिनभर जाम लगता रहा। हाईवे पर दोपहर के समय गंगाघाटी आने वाले पर्यटक वाहनों का दबाव बढ़ा। रामझूला से तपोवन के बीच लगे जाम को खुलवाने में पुलिस परेशान रही। सडक़ किनारे ठेली-फड़ वालों का कब्जा और ऑटो-विक्रम सडक़ किनारे खड़े होने से दिक्कत बढ़ी। पर्यटकों की भीड़ के चलते रामझूला और लक्ष्मणझूला पुल पर दबाव रहा। सुबह 11 बजे से दोपहर 2 बजे तक भीड़ बढऩे पर दोनों पुलों पर दुपहिया वाहनों की आवाजाही बंद करवानी पड़ी। नीलकंठ मोटर मार्ग भी दोपहर 12 बजे से एक बजे तक बाधित रहा। यहां भी संकरे मार्ग पर बेतरतीव गाडिय़ां खड़ी होने से परेशानी बढ़ी।

38

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *