चार युवकों ने नाबालिग से किया गैंगरेप

मुजफ्फरपुर —

मुजफ्फरपुर के साहेबगंज में एक 12 वर्षीया नाबालिग को गैंगरेप के बाद उसके ही घर के कमरे में जिंदा जला दिया गया। पंजाब से लौटने के बाद पिता ने आवेदन दिया तो मंगलवार को एफआईआर हुई। मामले में गांव के ही चार युवकों को आरोपित किया गया है। पीड़िता के शव का दाह संस्कार भी कर दिया गया। पीड़ित गांव में अपने दादा-दादी व बड़ी बहन के साथ रहती थी। पिता पंजाब में मजदूरी करता है। एसएसपी जयंतकांत ने बताया कि एसडीपीओ सरैया इसकी जांच कर रहे हैं। जांच रिपोर्ट अपने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। फरार आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी में जुटी है। सकरा में दसवीं की छात्रा के साथ गैंगगैंगरेप मामले में पुलिस की फजीहत से भी साहेबगंज पुलिस ने सीख नहीं ली। डीजी कंट्रोल के संज्ञान के बाद सकरा पुलिस जागी। साहेबगंज मामले में भी स्थानीय पुलिस की भूमिका संदेहास्यपद है। आवेदन मिलने के बावजूद एफआईआर दर्ज नहीं करना पुलिसिंग पर सवाल उठता है। पीड़िता के पिता ने बताया कि घटना की जानकारी मिलने के बाद वे गांव पहुंचे। सात जनवरी को ग्रामीणों को पंचायत के लिए बुलाया। लेकिन, इसमें कोई सटीक निर्णय नहीं निकल सका। इसके बाद वे आठ जनवरी को साहेबगंज थाने में आवेदन दिया। लेकिन, पुलिस मामला दर्ज नहीं की। फिर बीते सोमवार को भी पंचायत बुलायी गई। इसमें भी कोई निर्णय नहीं निकला। सभी लोग केस मैनेज करने को लेकर दबाव बना रहे थे। लोक लज्जा का हवाला दे रहे थे। लेकिन, वह नहीं माने जब मंगलवार को आवेदन की जानकारी लेने थाना पर पहुंचा तो उस वक्त तक केस नहीं हो सका था। उन्होंने कहा कि मेरे पूछने के बाद केस दर्ज हुआ। एसएसपी ने बताया कि पुलिस लापरवही की जांच हो रही है। जांच में दोषी होने पर कार्रवाई होगी।

48

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *