ज्यादा बेहतर तरीके से निभाती हैं घर से जुड़ी जिम्मेदारियां 👉🏾 जानिए कौन है जिम्मेदार मुखिया

नई दिल्ली —

भारत में घर में महिलाओं की तुलना में पुरुष बहुत कम हाथ बंटाते हैं। महिलाएं बच्चों से लेकर बुजुर्गों की देखभाल के मामले में भी पुरुषों से काफी आगे हैं। खास बात यङ है कि महिलाओं को इसके लिए कोई पैसा भी नहीं मिलता। नेशनल स्टैटिकल ऑफिस की रिपोर्ट में महिलाओं और पुरुषों को कामकाज का आकलन किया गया है। भारत में समय का उपयोग 2019 का सर्वेक्षण राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय ने पहली बार किया है।
जनवरी 2019 से दिसंबर 2019 के बीच किए गए इस सर्वे में ग्रामीण से लेकर शहर तक के महिलाओं और पुरुषों से बातचीत की गई है। रिपोर्ट के आंकड़े देखकर आप चैंक जाएंगे। श्टाइम यूज इन इंडिया 2019श् नामक इस रिपोर्ट में कहा गया है कि औसतन, महिलाएं एक दिन में करीब 299 मिनट घरेलू कामों में लगाती हैं और इसके लिए उन्हें कोई पैसा नहीं मिलता है जबकि पुरुष औसतन 97 मिनट घरेलू काम में खर्च करते हैं।
इसी तरह एक दिन में महिलाएं घर के सदस्यों की देखभाल के कामों में 134 मिनट खर्च करती हैं, जबकि पुरुष ऐसे कामों में केवल 76 मिनट ही खर्च करते हैं। अगर भारत में एक दिन में इन कामों पर खर्च किए गए कुल समय को जोड़े तो तस्वीर साफ हो जाती है। महिलाएं औसतन 16.9 फीसदी बिना पैसे के लिए घरेलू कामकाज करती हैं, जबकि 2.6 फीसदी घर के सदस्यों की देखभाल में लगाती है। जबकि, पुरुषों का यही औसत 1.7 फीसदी और 0.8 फीसदी हो जाता है।
घेरलू कामकाज में पुरुषों की तुलना में महिलाएं हर जगह आगे हैं। ग्रामीण इलाकों में महिलाएं खेतों में भी काम करती हैं। इसके अलावा वह मवेशियों के चारा-पानी का भी इंतजाम करती हैं। वहीं, शहरों में भी पत्नियां घरेलू कामकाज के मामले में अपने पतियों से काफी ज्यादा मेहनत करती हैं। खास बात यह है कि महिलाओं को इन कामों के लिए कोई वेतन या पैसे भी नहीं मिलते हैं।

👉🏾भगौडे कारोबारी पर आई आफत, बहन ही बन गई सरकारी गवाह 👉🏾 जनिए कौन है ये कारोबारी — http://www.khatanabulletin.com/archives/21348

113

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *