वैक्सीनेशन का ड्राई रन दो जनवरी से हर सेंटर पर तीन कमरे होंगे


लखनऊ………..

नए वर्ष में कोरोना वैक्सीनेशन अभियान शुरू करने के लिए यूपी ने कदम बढ़ा दिया है। ऐसे में टीकाकरण की तैयारियों को परखने के लिए स्वास्थ्य विभाग पूर्वाभ्यास करेगा। दो जनवरी को राजधानी के पांच अस्पतालों में वैक्सीनेशन का ड्राई रन किया जाएगा। शहर में 11 मार्च को पहला कोरोना का मरीज मिला था। वहीं, अप्रैल में वायरस से पहली मौत हुई थी। अब तक राजधानी में 75 हजार से ज्यादा लोग वायरस की चपेट में आ चुके हैं। वहीं, 11 सौ से अधिक की महामारी ने जान ले ली है। अब नए वर्ष में वैक्सीनेशन से बीमारी को हराने की उम्मीद जगी है। ऐसे में महीनों से चल रहीं तैयारियों पर गुरुवार को शासन में बैठक हुई।
इस दौरान लखनऊ को कोरोना वैक्सीनेशन पूर्वाभ्यास के लिए चुना गया। डिस्ट्रिक इम्युनाइजेशन ऑफीसर डॉ. एमके सिंह के मुताबिक, राजधानी के पांच अस्पतालों में दो जनवरी को टीकाकरण का पूर्वाभ्यास किया जाएगा। इसमें चार अस्पताल केजीएमयू, पीजीआइ, लोहिया संस्थान व माल सीएचसी सरकारी हैं। वहीं, सहारा अस्पताल निजी क्षेत्र का है। यहां दस बजे से दो घंटे पूर्वाभ्यास होगा। डॉ. एमके सिंह के मुताबिक पूर्वाभ्यास में लाभार्थियों को वैक्सीन लगाने का मैसेज भेजा जाएगा। इसके बाद वह वैक्सीनेशन साइट पर पहुंचेंगा। उसके ब्योरे का कर्मी मिलान करेंगे। इसके बाद वैक्सीनेशन रूम में लाभार्थी को भेजा जाएगा। यहां वैक्सीन लगाने का स्टाफ प्रै िक्टस करेगा। सिरिंज व अन्य उपकरणों को डिस्पोज करेगा। लाभार्थी को ऑब्जर्वेशन रूम में बैठाकर उसकी निगरानी की जाएगी। इस प्रक्रिया में न्यूनतम 40 से 50 मिनट लगेंगे। लखनऊ के फैजुल्लागंज के दाऊदनगर में रहने वाली चंद्रावती प्रजापति को आज प्रधानमंत्री से पुरस्कृत करेंगे। हर वैक्सीनेशन सेंटर पर तीन कमरे होंगे। पहला वेटिंग रूम होगा। जहां लोग टीका लगवाने के लिए अपनी बारी का इंतजार करेंगे। दूसरे कमरे में टीका लगाया जाएगा। वहीं तीसरा कमरा ऑब्जर्वेशन रूम होगा। यहां लाभार्थी को आधे घंटे निगरानी के लिए रोका जाएगा। एनाफाइलेक्सिस किट इसी रूम में मौजूद रहेगी। किसी भी दिक्कत पर उसका प्रयोग किया जाएगा। वहीं, सोमवार व शुक्रवार को दो दिन वैक्सीन लगेगी।

181

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *