आरबीआई की चेतावनी इन ऐप्स से लोन लेना पड़ सकता है महंगा

नई दिल्ली ———

डिजिटल प्लेटफॉर्म्स के आने से देश में धोखाधरी बढ़ रही है। कई जाली कंपनियां ऐप तैयार कर रही हैं जिनके जरिए वो लोगों को लोन मुहैया करा रही हैं। इसके मद्देनजर भारतीय रिजर्व बैंक ने सभी ग्राहकों को अलर्ट किया है। आरबीआई  ने कहा कि फर्जी प्लेटफॉर्म और ऐप के जरिये व्यक्तिगत ग्राहकों व छोटे कारोबारियों को आसानी से कर्ज मुहैया कराने का झांसा देकर धोखाधड़ी की जा रही है। ऐसे डिजिटल प्लेटफॉर्म पर ग्राहकों को बिना विशेष दस्तावेज के लोन दिया जाता है। बदले में उनसे भारी-भरकम ब्याज और दूसरे चार्जेज भी वसूले जाते हैं। यही नहीं ग्राहकों के डेटा और मोबाइल फोन की जानकारियों का भी दुरुपयोग किया जाता है। आरबीआई ने कहा कि ग्राहक इस तरह के किसी भी अनधिकृत ऐप को अपने केवाईसी दस्तावेज न दें। साथ ही अगर कोई एप या डिजिटल प्लेटफॉर्म झांसा देने की कोशिश करता है, तो संबंधित एजेंसियों से उनकी शिकायत भी करें। ग्राहक आरबीआई के ऑनलाइन पोर्टल सचेत आरबीआई.ऑर्ग.इन पर भी शिकायत भेज सकते हैं। बैंक, आरबीआई से रजिस्टर्ड गैर बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (एनबीएफसी) और अन्य संस्थाओं जो राज्य सरकार के वैधानिक प्रावधानों के तहत द्वारा विनियमित हैं उनसे लोन लिया जा सकता है। इसलिए सिर्फ वहीं से लोन लें। साथ ही आपको कभी भी केवाईसी डॉक्यूमेंट्स किसी अनजान व्यक्ति, अनाधिकृत ऐप को नहीं देने चाहिए और ऐसी घटनाओं के बारे में संबंधित कानून प्रवर्तन एजेंसियों को सूचित करना चाहिए।

206

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *