कृषि बिल जल्द वापस ले सरकार, नही लिया संज्ञान तो होगा जिले पर आमरण अनशन का ऐलान – लाखन गुर्जर

हरिद्वार —-

भारतीय किसान यूनियन (अखण्ड) ने मित्र विहार जमालपुर कार्यालय पर किसानो को लेकर चिन्ता जताई। किसान आन्दोलन में शहीद हुए 15 किसानो को श्रद्धांजलि देते हुये । राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष लाखन सिंह ने कहा मोदी सरकार के तीन नये कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन बीते 24 दिनों से जारी है। देश के तमाम जगहों से आये कियान अपने मांगों को लेकर दिल्ली बॉर्डर पर डटे हुए हैं और कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग कर रहे हैं। वहीं किसान की समस्याओ को लेकर सरकार समझौते के मूड में नजर नहीं आ रहे हैं। किसान तीनों नए कृषि कानून.2020 को वापिस लेने की मांग पर अड़े हुए हैं। किसान दिल्ली के सिंघू, टिकरी और गाजीपुर बॉर्डर पर प्रदर्शन कर रहे हैं । इस कडाके की ठण्ड में किसानो की समस्या पर सज्ञांन नही लेने पर लापरवाही बर्दास्त नही की जायेंगी। चाहे प्रत्येक जिलो पर यूनियन के कार्यकत्र्ता को आमरण अनशन करना पडे तो पिछे नही हटेगी।

युवा राष्ट्रीय अध्यक्ष नीरज चौधरी ने कहा कि केन्द्र सरकार को किसानों की चिन्ता नही है। सरकार जब तक तीनो कृषि बिलो को वापस नही लेगी। तब तक आन्दोलन जारी रहेगा। आने वाले समय में उत्तराखण्ड, पश्चिमी उत्तर प्रदेश से भारी सख्या में किसानो को आन्दोलन में पहुचने की अपील की |

बैठक में उपस्थित विवके चौधरी,मुकेष चौधरी, विजय पाल, जयदीप वालिया,रजत कुमार, योगेष चैहान, राहुल चौधरी आदि कार्यकत्र्ता बैठक में उपस्थित रहें।

256

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *