मैं भी चौकीदार से सतपाल महाराज ने बनाई दूरी

देहरादून – यू तो इन दिनों भाजपा चौकीदार मय हो रखी है लेकिन फिर भी कुछ भाजपा नेता अपने आप को इस चौकीदार कैंपेन से दूर रखे हुए हैं। जी हम बात कर रहे हैं उत्तराखंड के वरिष्ठ नेता और कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज की। वो खुद को चौकीदार नहीं मानते और न ही इस कैंपेन से इत्तेफाक रखते हैं । क्योंकि कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज अभी तक मैं भी चौकीदार मुहिम से नहीं जुड़े हैं । जो सियासी गलियारों में कई सवाल खड़े कर रहा है ।
कांग्रेस के खिलाफ बीजेपी मैं भी चौकीदार कैंपेन चला रही है । पीएम मोदी द्वारा शुरू की गई इस मुहिम से भाजपा के सभी नेता जुड़े हैं । मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत समेत कई मंत्री विधायक व नेता अपने नाम के आगे मैं भी चौकीदार लिखे हुए हैं । वहीं त्रिवेंद्र सरकार में कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज मैं भी चौकीदार मुहिम से अभी तक नहीं जुड़े हैं । बता दें कि बीते 16 मार्च को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक वीडियो जारी किया था, जिसमें उन्होंने मैं भी चौकीदार से चुनाव मुहिम की शुरुआत की थी । इस अभियान की शुरुआत कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि मैं भी चौकीदार अभियान में मैं अकेला नहीं हूं । हर कोई जो भ्रष्टाचार, गंदगी, सामाजिक बुराइयों से लड़ रहा है वह एक चौकीदार है ।वहीं प्रदेश प्रवक्ता वीरेंद्र बिष्ट ने बताया कि प्रधानमंत्री और राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से प्रेरित होकर भाजपा के प्रमुख कार्यकर्ता अपने नाम के आगे चौकीदार लिख रहे हैं और अपने आप को गर्व महसूस कर रहे हैं । साथ ही सतपाल महाराज पर बोलते हुए कहा कि सतपाल महाराज संत महात्मा भी हैं उनको क्या करना है उनको क्या लिखना है, वह हमसे बेहतर समझते हैं । पार्टी की रीति-रिवाजों और सिद्धांतों को उन्होंने आत्मसार किया है । इसलिए पार्टी जो भी निर्देश देगी वह उसको मानेंगे । साथ ही उन्होंने कहा कि सतपाल महाराज की कोई नाराजगी नहीं है वह पार्टी के प्रति समर्पित हैं और पार्टी की रीति रिवाजों को आगे बढ़ा रहे है । वहीं कैंपेन से न जुडऩे को लोग उनकी नाराजगी से जोड़ रहे हैं

30

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *