पाकिस्तान में महंगाई की मार, 1000 रूपए प्रति किलो हुए अदरक के दाम

इस्लामाबाद (ईएमएस)———

पाकिस्तान में सब्जियों की कीमत में आई अप्रत्याशित तेजी से लोग परेशान हो गए हैं। वहीं, प्रधानमंत्री इमरान खान चीनी के दाम को कम करने का दावा कर अपनी पीठ थपथपा रहे हैं। इमरान खान की पूर्व पत्नी रेहम खान ने एक पाकिस्तानी न्यूज चैनल का वीडियो ट्वीट कर बताया कि रावलपिंडी में एक किलो अदरक 1000 रुपए का बिक रहा है। शिमला मिर्च की कीमत भी 200 रुपए प्रति किलो तक पहुंच गई है।

दो दिन पहले ही इमरान खान ने ट्वीट कर दावा किया था कि उनके देश में चीनी अब 81 रुपये प्रति किलो बिक रही है। उन्होंने खुद की तारीफ करते हुए कहा कि उनकी सरकार की नीतियों के कारण ही पिछले महीने 102 रुपए किलो बिक रहे चीनी की कीमत अब 81 रुपए तक आ गई है। उन्होंने कीमत को कम करने के लिए बनाई गई अपनी टीम की भी तारीफ की थी। पाकिस्तान इन दिनों खाद्यान की कमी से जूझ रहा है। जो पाकिस्तान पहले दुनियाभर को प्याज का निर्यात करता था।

उसे अब अपने देश में प्याज की कीमतों को कम करने के लिए इसका आयात करना पड़ रहा है। आटे और चीनी के दाम को कम करने के लिए इमरान खान लगातार कैबिनेट और अधिकारियों के साथ मीटिंग कर रहे हैं। पाकिस्तान में इस साल गेहूं की कीमत ने रेकॉर्ड तोड़ दिया है। यह इतिहास में अब तक की सबसे ज्यादा 2400 रुपये प्रति 40 किलो की कीमत यानी 60 रुपये में एक किलो पर पहुंच गई। इसके साथ ही देश की सरकार के महंगाई काबू में करने और खाद्य सुरक्षा मुहैया कराने की कोशिशों के असफल होने के इशारे मिलने लगे हैं।

पिछले दिसंबर में देश में हालात बेहद खराब दिखने लगे थे, जब गेहूं की कीमत 2000 रुपए प्रति 40 किलो पर पहुंच गई थी। इस साल अक्टूबर में ही यह रेकॉर्ड टूट गया। इमरान खान इन दिनों विपक्षी पार्टियों के गठबंधन पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट (पीडीएम) को संभालने में जुटे हुए हैं। विपक्ष की सरकार विरोधी रैलियों में उमड़ती भीड़ देख उनकी नींद उड़ी हुई है। वहीं एकजुट हुआ विपक्ष हर कीमत पर इमरान खान को सत्ता से बाहर करने पर तुला हुआ है। खुद पाकिस्तानी सेना भी हवा का रूख भांपकर इमरान खान का साथ छोड़ चुकी है।

205

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *