सार्वजनिक और निजी क्षेत्र मिलकर महामारी से उबारने में विकासशील अर्थव्यवस्थाओं की कर सकते हैं मदद

नई दिल्ली ——-

विश्व की शीर्ष साफ्टवेयर कंपनी माइक्रोसॉफ्ट मुख्य कार्यकारी (सीईओ) सत्या नडेला ने कहा कि सार्वजनिक संस्थान और निजी क्षेत्र मिलकर विकासशील अर्थव्यवस्थाओं को कोरोना वायरस महामारी के प्रकोप से उबारने और उन्हें वृद्धि के रास्ते पर वापस लाने में मदद कर सकते हैं। उन्होंने सरकार, निजी क्षेत्र और नागरिक समाज के बीच श्सामाजिक संपर्कश् की जरूरत पर भी जोर दिया, ताकि बदलावों को समायोजित करने के लिए बेहतर वातावरण का निर्माण किया जा सके।

नडेला ने कहा, श्भारतीय सिविल सेवक के बेटे के रूप में हुई परवरिश के चलते मेरा मानना है कि सार्वजनिक क्षेत्र के संस्थानों की संस्थागत ताकत बहुत महत्वपूर्ण है हम सार्वजनिक क्षेत्र को कार्यकुशलता के मोर्चे पर कैसे खड़ा कर सकते हैं, खासतौर से प्रौद्योगिकी के उपयोग में।श् उन्होंने फिक्की के वार्षिक अधिवेशन में कहा, श्मुझे लगता है कि इस मोर्चे पर भारत में कुछ काम हो रहा है, चाहें वह आईडी प्रणाली हो या बैंकिंग एपीआई या भुगतान एपीआई। इस तरह यह काफी ज्ञानवर्धक है।श्  उन्होंने कहा कि उनकी राय में यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि सार्वजनिक क्षेत्र को आधुनिकीकरण के लिए मदद मिले। उन्होंने कहा कि निजी-सरकारी भागीदारी से परिवर्तन को अपनाने में मदद मिल रही है और यह काफी महत्वपूर्ण है। विकासशील देश के लिए महामारी से उबरने का यह एक तरीका है। लेकिन यदि तेजी से वृद्धि करनी है तो अगले दस वर्ष में सावर्जनिक संस्थाओं और निजी क्षेत्र-दोनों को तेजी से प्रगति करने में समर्थ करना होगा। 

167

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *