लखनऊ में सपा कार्यकर्ताओं ने रोकी ट्रेन

लखनऊ ———–

नए कृषि कानून से नाराज दिल्ली की सीमाओं पर 12 दिन से डटे किसानों ने आज भारत बंद का ऐलान किया है. यह बंदी सुबह 11 बजे से दोपहर 3 बजे तक रहेगी. इसपर कांग्रेस, सपा, एनसीपी और एसपी समेत करीब 18 दलों का किसानों को समर्थन है. हांलाकि, किसानों का यह कहना रहा कि वे खुश हैं उन्हें समर्थन मिल रहा है, लेकिन उनकी विनती है कि कोई भी पार्टी अपना झंडा या बैनर ले कर आंदोलन में शामिल न हो।
भारत बंद के ऐलान के मद्देनजर राजधानी के कई रास्तों पर प्रदर्शन होने वाला है. मंगलवार सुबह 11 बजे से 3 बजे तक भारतीय किसान यूनियन के किसानों के समर्थन में यह प्रदर्शन किया जाने वाला है. इस दौरान शहर के देवा रोड नौबस्ता, इंद्रानगर रोड,आईआईएम रोड, दुबग्गा में मछली मंडी, शहीदपथ सहित कई रास्ते ब्लॉक होंगे. इसके चलते प्रदेश में खास सतर्कता बरती जा रही है. शहर के 56 धरना प्रदर्शन वाले स्थानों पर अतिरिक्त पुलिस फोर्स भी तैनात की गई है. इसके अलावा, चिनहट इलाके में दुकानदारों ने दुकान बंद करके किसानों का समर्थन किया।
लखनऊ में चिनहट के मल्हौर स्टेशन पर समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने ट्रेन रोक दी है. ट्रेन रोकने के लिए सपा के एमएलसी राजेश यादव उर्फ राजू अपने समर्थकों के साथ स्टेशन पर पहुंचे थे।
फर्रुखाबाद में जहां कई किसान हिरासत में लिए जा चुके हैं, तो वहीं राजनेताओं के भी घर के बाहर पुलिस को तैनात किया गया है. पुलिस लगातार पूरे शहर पर नजर रख रही है और बाजार खुलवा रही है. दूसरी तरफ, जिला प्रशासन ने समाजवादी पार्टी के जिला अध्यक्ष सहित कई नेताओं को हिरासत में ले लिया है।
मऊ में भारत बंद के चलते किसानों के समर्थन में उतरे दुकानदारों से प्रशासन ने दुकानें खोलने की अपील की है. साथ ही, कोई घटना होने पर सुरक्षा का भरोसा भी दिलाया है।
सीतापुर में भारत बंद को लेकर पुलिस अलर्ट दिख रही है. जिले की सीमाएं भी सील कर दी गई हैं. एएसपी, एसडीएम और सिटी मजिस्ट्रेट सहित भारी पुलिस और पीएसी बल शहर में रूट मार्च कर रही है. सुरक्षा को देखते हुए प्रशासन ने कई सपा कार्यकर्ता और किसान नेताओं को नजर बंद किया है.
गौतमबुद्ध नगर में डीएनडी जाने वाले रास्ते पर नोएडा पुलिस ने बैरिकेड लगाया हुआ है. हर गाड़ी को चेक कर दिल्ली की तरफ जाने दिया जा रहा है. यहां पर पैरामिलिटरी फोर्स के जवानों को भी तैनात किया गया है. किसानों के भारत बंद आंदोलन को लेकर पुलिस पूरी तरह सतर्क नजर आ रही है।
वाराणसी में रोजाना की तरह ही वाराणसी में सुबह-सुबह लोगों की चहल-पहल देखने को मिल रही है. वहीं, दुकानें भी खुली हुई हैं. भारत बंद के दौरान प्रशासनिक व्यवस्था भी काफी दुरुस्त है. जिला मुख्यालय पर बैरिकेडिंग की गई है. इसके साथ ही प्रशासन द्वारा सख्त आदेश दिया गया है कि किसी तरह से अगर कोई भी बेवजह किसी की दुकानों को बंद कराने का प्रयास नहीं करेगा. फिलहाल वाराणसी में भारत बंद का अभी तक असर नहीं देखने को मिल रहा है।

123

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *