कई प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों ने दी ब्रह्मलीन स्वामी हसंदेवाचार्य को श्रद्धांजलि

हरिद्वार – ब्रह्मलीन स्वामी हंसदेवाचार्य महाराज के अंतिम दर्शन करने व उन्हें श्रद्धांजलि देने वालों का तांता लगा रहा। देश भर से आए ब्रह्मलीन स्वामी हंसदेवाचार्य के अनुयायियों, तमाम प्रमुख संतों, राजनेताओं, सामाजिक संगठनों, व्यापारियों व शहर के गणमान्य लोगों ने भीमगोड़ा स्थित जगन्नाथ धाम पहुंचकर उनके पार्थिव शरीर पर पुष्पांजलि अर्पित कर उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित किए। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर, केंद्रीय मंत्री म.म.साध्वी निरंजन ज्योति उत्तराखण्ड के पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी, पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत, डा.रमेश पोखरियाल निशंक, शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक, पूर्व मंत्री बलराज पासी, मेयर अनीता शर्मा, साध्वी प्राची, पूर्व विधायक अंबरीष कुमार, डा.संजय पालीवाल, भाजपा जिला अध्यक्ष डा.जयपाल सिंह चैहान, जिला पंचायत उपाध्यक्ष राव आफाक अली, राजेश रस्तोगी, नरेश शर्मा, विकास तिवारी, पार्षद अनरिूद्ध भाटी आदि सहित तमाम गणमान्य लोगों व संतो ने स्वामी हंसदेवाचार्य के आकस्मिक ब्रह्मलीन होने पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए इसे देश व समाज के लिए भारी क्षति बताया।
अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमहंत नरेंद्र गिरी महाराज एवमं आनन्द पीठाधीश्वर आचार्य महामण्डलेश्वर स्वामी बालकानंद गिरी महाराज ने अपनी और से ब्रह्मलीन स्वामी हंसदेवाचार्य महाराज श्रद्धांजलि दी और उन्हें एक महान संत बताया।
गौरतलब है कि लखनऊ के समीप सडक़ दुघर्टना में स्वामी हंसदेवाचार्य महाराज की मौत हो गयी थी। देश के प्रमुख संतों में शुमार तथा अनेक सामाजिक संस्थाओं के संरक्षक के रूप में समाज सेवा में उल्लेखनीय योगदान दे रहे स्वामी हंसदेवाचार्य के अचानक ब्रह्मलीन होने से संत समाज सहित पूरे देश में शोक की लहर दौड़ गयी है। शनिवार को खडख़ड़ी शमशान घाट पर देश भर से आए संतों, राजनेताओं तथा गणमान्य लोगों की मौजूदगी में खडख़ड़ी शमशान घाट पर उनका अंतिम संस्कार किया गया। स्वामी अरूण दास एवमं स्वामी लोकश दास महाराज ने ब्रह्मलीन स्वामी हंसदेवाचार्य महाराज को मुखाग्नि दी।

38

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *