पन्नाधाय का खून ही हो सकता है इतना बहादुर, शहीदे आजम की मां के चरणो में श्रद्धांजलि : खटाना बुलेटिन

509 Views

गोली चल रही थी चारो तरफ भगदड मची थी सीने पर गोली खाकर भी एक कदम पीछे नही हटा बाल शहीद तपती दोपहर भयंकर गर्मी यही दिन थे जब राजस्थान की सरजमी में जनरल डायर से भी खतरनाक मनसूबे पालने वाली वहाँ की मौजूदा सरकार के आदेश पर निहत्थे गुर्जर समाज के लोगो पर गोलियां चलवाई थी । कसूर क्या था ये की वो अपना हक मांग रहे थें। आखिर हर मसले का हल बातचीत से ही तय होता है और इस मामले में भी ये ही हुवा लेकिन समाज ने सबक नही लिया फिर से उस महिला को राजस्थान में मुख्यमंत्री बनने दिया जिसने ये कायराना आदेश दिया था ।
इस विषय को आप सब जानते ही है राजस्थान गुर्जर आंदोलन के शहीदों को श्रधंजलि देने के लिए कुछ लिखना चाहता था जब अखबार के पुराने रिकॉर्ड चेक किये तो एक पुरानी तस्वीर पर आकर आँखे रुक गई और भर भी आई काफी देर तक आंशु नही रुके आप सभी को ये फोटो शेयर कर रहा हुं।
सबसे पहले उन लोगो को कहना चाहता हुं। जो राजस्थान में आरक्षण आंदोलन के बाद भर्ती हुए की ऐसी कमरों में बैठकर उन वीरो की सहादत को मत भूल जाना । उनके दिए इस उपहार को इस्तेमाल करना । लेकिन रोजाना सुबह उन शहीदों को नमन जरूर करना और हो सके तो उनके परिवारों की यथा सम्भव मदद एवम सम्मान करना । रही बात पूरे समाज की तो इस फोटो में गोली खाने के बाद भी भागने की बजाय जालिमो के सामने डटकर खड़े इस बच्चे का पूरे देश का गुर्जर समाज ऋणी है।
आप यकीन मानिए हाथों से में लिख रहा हुं। ओर मेरी आँखों से पानी का बहना रुक नही पा रहा है। मै उस मा को बार बार नमन करता हुं। उसके चरणों मे श्रद्धांजलि अर्पित करता हुं। जिस मां ने ऐसे शेर को जन्म दिया पन्ना धाय के खून ही ऐसे वीर पैदा कर सकता है बार बार नमन है शहीद वीर की माता आपको ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *