लो और त्रिकोण सोसाइटी देंगे 25 वंचित महिलाओं को सिक्योरिटी गार्ड का प्रशिक्षण

देहरादून – स्किल डेवलपमेंट ट्रेनिंग इन सेफ्टी एंड सिक्योरिटी का एक महीना पूरे होने की परिणति का जश्न मनाने के लिए आज सहसपुर में एक कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला का आयोजन त्रिकोण सोसाइटी और फ्लो उत्तराखंड चैप्टर ने संयुक्त रूप से किया। कार्यक्रम के तहत, विभिन्न क्षेत्रों में सिक्योरिटी गार्ड के रूप में शामिल होने के लिए 25 से अधिक वंचित महिलाओं को प्रशिक्षित किया गया।
महिलाओं के लिए प्रशिक्षण सत्र का नेतृत्व ट्रेनिंग पार्टनर एलायंस सिक्योरिटीज ने किया। सत्र का आयोजन निदेशक त्रिकोन सोसायटी डॉ नेहा शर्मा ने किया, जो की फ्लो उत्तराखंड चैप्टर की कार्यकारणी सदस्य भी हैं। फिक्की लेडीज ऑर्गनाइजेशन की कोर कमेटी और नव प्रशिक्षित महिलाओं के बीच एक प्रोत्साहन और परिचर्चा सत्र का आयोजन हुआ। सत्र के बारे में बात करते हुए फ्लो की चेयरपर्सन शिल्पी अरोड़ा ने कहा, हम लोगों ने सिक्योरिटी गार्ड महिलाओं के ऊर्जावान और कुशल समूह को प्रेरित करने के लिए इस सत्र का आयोजन किया है। इस तरह के कार्यक्रम आयोजित करने का उद्देश्य महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाना है। हम फ्लो में महिलाओं को आर्थिक, मानसिक, शारीरिक रूप से सशक्त बनाने का लक्ष्य रखते हैं और यह सुनिश्चित करने के लिए ऐसे विभिन्न कार्यक्रम आयोजित करते हैं। यह विशेष कार्यशाला इस दिशा में हमारा एक प्रयास है और आने वाले समय में हम इसी तरह की कई कार्यशालाएँ आयोजित करेंगे। उन्होंने आगे कहा की यह कार्यशाला अप्रचलित क्षेत्रों में वी (महिला सशक्तीकरण) कार्यक्रमों को बढ़ावा देने और समर्थन करने का एक प्रयास है। मौजूद प्रशिक्षित महिलाओं को संबोधित करते हुए, फ्लो की सीनियर चेयरपर्सन नाजिया इजुद्दीन ने कहा, महिलाओं को आर्थिक रूप से सशक्त रहने के लिए लगातार शिक्षित रहना जरूरी है। हमने न केवल पर्याप्त प्रशिक्षण सुनिश्चित किया, बल्कि यह भी सुनिश्चित करा कि महिलाओं को विधिवत रखा जाए और इसका पूरा लाभ प्राप्त किया जाए। इस प्रशिक्षण सत्र के माध्यम से महिलाओं में शिक्षा, कौशल, रोजगार और उद्यम निर्माण सम्बंधित सुधार देखने को मिले। एक महीने में हुए कार्यक्रम के मॉड्यूल के बारे में बताते हुए डॉ नेहा शर्मा ने कहा, इस महीने भर के परिक्षण सत्र में महिलाओं को सिक्योरिटी गार्ड के विभिन्न पहलुओं पर प्रशिक्षित किया गया, जैसे की आचरण और व्यवहार,अग्निशमन, सुरक्षा की कई मूल बातें व अन्य आवश्यक विषय, जोखिम व खतरों और आपातकाल से निपटने के लिए प्रशिक्षण, इत्यादि जैसे शामिल रहे। सत्र में मौजूद महिलाओं ने फिक्की फ्लो कार्यकारणी के सदस्य चेयरपर्सन शिल्पी अरोड़ा, सीनियर वाईस चेयरपर्सन नाजिया इजुद्दीन, जॉइंट सेक्रेटरी कोमल बत्रा, एग्जीक्यूटिव सेक्रेटरी नैना काचरू और डॉ नेहा शर्मा के साथ बातचीत की।

42

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *