मुख्तार के करीबी जुगुनू वालिया ने रची थी लखनऊ में रेस्टोरेंट संचालक की हत्या की साजिश

लखनऊ।
आलमबाग के चंदर नगर में बीते 27 अक्टूबर की रात हुई रेस्टोरेंट संंचालक जसविंदर उर्फ रोमी की हत्या की साजिश बाहुबली मुख्तार अंसारी के करीबी व हिस्ट्रीशीटर जुगुनू वालिया ने रची थी। पुलिस को जुगुनू के खिलाफ कई अहम साक्ष्य मिले हैं। सोमवार रात पुलिस टीम ने डीसीपी सेंट्रल डा. ख्याति गर्ग के निर्देशन में एडीसीपी सेंट्रल राघवेंद्र कुमार मिश्र की अगुवाई में जुगुनू वालिया के चंदर नगर स्थित घर पर दबिश दी। घर पर ताला बंद मिला। पुलिस ने पूरा घर खंगाला और कोई नहीं मिला। इसके बाद अधिकारियों के निर्देश पर जुगुनू वालिया की गिरफ्तारी के लिए पांच टीमें गठित की गईं। यह टीमें शहर के साथ ही गैर जनपदों में जुगुनू के ठिकानों पर देर रा्त तक दबिश देती रहीं। दबिश के दौरान इंस्पेक्टर आलमबाग अनिल कुमार सिंह और इंस्पेक्टर कृष्णानगर आलोक कुमार राय समेत भारी पुलिस बल मौजूद रहा।
घर का गेट फांदकर अंदर पहुंच पुलिस टीम
पुलिस टीम रात जब दबिश के लिए पहुंची तो घर के मुख्य गेट पर ताला जड़ा था। पुलिस कर्मी गेट फांदकर अंदर पहुंची। इसके बाद घर की तलाशी ली पर पुलिस को कुछ मिला नहीं। आशंका है कि एक दो दिन पहले ही लोग घर छोड़कर भागे हैं। बीते दिनों पुलिस ने जुगुनू वालिया के भाई और भतीजे को उठाया था। दोनों से घंटों थाने में पूछताछ की गई थी।
हत्या, रंगदारी, गैंगेस्टर में दर्ज हैं करीब दो दर्जन मुकदमें
जुगुनू वालिया, मुख्तार के इशारे पर व्यापारियों से रंंगदारी मांगता था। भाड़े पर हत्या कराता और पूरे शहर में उसकी दबंगई चलती है। व्यापारियों में भी उसको लेकर भय रहता है। पुलिस हत्या के मामले में अबतक जसप्रीत, नीशू समेत चार लोगों को जेल भेज चुकी है।
बता दें कि बीते 27 अक्टूबर की देर रात जसविंदर रेस्टोरेंट पर थे। इस बीच पूर्व परिचित जसप्रीत और नीशू सहित तीन लोग कार से खाना खाने पहुंचे थे। दोनों ने जसविंदर से शराब पीने के लिए कहा था मना करने पर अभद्र कमेंट किए थे। फिर नीशू ने पिस्टल निकाल कर उनको दो गोली मार दी। एक गोली जसविंदर के सीने और दूसरी पेट पर लगी थी। उनको इलाज के लिए ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया था। इलाज के दौरान जसविंदर की मौत हो गई थी।
10

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *