17 जातियोें को आरक्षण दिये जाने की मांग को लेकर कांग्रेस फिशरमैन ने सत्याग्रह कर सौंपा ज्ञापन

बस्ती ।

उत्तर प्रदेश फिशरमैन कांग्रेस कमेटी प्रदेश अध्यक्ष देवेन्द्र निषाद के आवाहन पर  गुरूवार को जिलाध्यक्ष सोमनाथ निषाद ‘संत जी’  के संयोजन में पार्टी नेताओं, कार्यकर्ताओं ने 17 जातियों को आरक्षण, मत्स्य पालन, बालू, मोरंग पट्टों के     अधिकारों को लेकर जिलाधिकारी कार्यालय पर धरना प्रदर्शन किया। धरने के बाद राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री को 9 सूत्रीय ज्ञापन भेजा।
आरक्षण सत्याग्रह धरने को सम्बोधित करते हुये कांग्रेस अध्यक्ष अंकुर वर्मा ने कहा कि भाजपा की सरकार में गरीबों, पिछड़ो, अल्पसंख्यकों के अधिकारों को एक-एक कर छीना जा रहा है। उन्हें राजनीतिक षड़यंत्रबश आरक्षण के अधिकार से भी वंचित किया जा रहा है। धरने को सीमा निषाद, अवधेश निषाद आदि ने सम्बोधित किया। फिशरमैन कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष सोमनाथ निषाद ‘संत जी’ ने कहा कि जनहित के सवालों और मछुआ समुदाय को अधिकार दिलाने के लिये कांग्रेस प्रतिबद्ध है और सत्याग्रह विभिन्न चरणों में जारी रहेगा।
राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री को भेजे 9 सूत्रीय ज्ञापन में कश्यप निषाद सहित 17 जातियों को अनुसूचित जाति का आरक्षण दिये जाने, मछली पालन को पूर्ण कृषि का दर्जा देने, मछुआ समुदाय के बकाये बिजली बिल को माफ किये जाने, मछली पालन हेतु बिजली निःशुल्क दिये जाने, तालाबों से माफियाओं के कब्जे हटाये जाने, पट्टो के पिछले लगान को माफ किये जाने, मछुआ समुदाय को जल पुलिस, गोताखोर एवं स्टीमर ड्राइबर की भर्ती में 50 प्रतिशत आरक्षण दिये जाने आदि की मांग शामिल है।
आरक्षण सत्याग्रह में मुख्य रूप से ई. राजबहादुर निषाद, विनोद निषाद, सतिराम निषाद, धीरेन्द्र कुमार निषाद, सचिन शुक्ल, सुधीर यादव, आदर्श पाठक, शुभम गौड़, विनोद निषाद, संदीप निषाद, प्रेमचन्द्र निषाद, गोरखनाथ, लक्ष्मी निषाद, सरोज निषाद, विमला निषाद, सुमित्रा निषाद, कुशलावती निषाद, विमला, राधिका, राम सूरत, श्याम साहनी, दीपक निषाद, विकास प्रजापति, जगदीश प्रसाद, निषाद, राम प्रसाद निषाद, रामहित प्रजापति, शनि निषाद आदि शामिल रहे।

19

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *