आदेश का उल्लंघन कर आनलाइन क्लास चलाने वाले स्कूलों पर होगी कार्रवाई

लखनऊ

कोरोना महामारी की चेन तोड़ने के लिए योगी सरकार ने एक फैसला लिया था. सीएम योगी ने राज्य के सभी सरकारी और प्राइवेट इंस्टीट्यूट और कोचिंग सेंटर्स को 20 मई तक बंद रखने के निर्देश दिए थे. इस दौरान कोई भी ऑनलाइन क्लासेस संचालित नहीं की जानी है. आदेशानुसार प्रदेश भर के शिक्षण संस्थानों को 20 मई तक बंद कर दिया गया है. लेकिन, आदेश के बावजूद माध्यमिक शिक्षा के कई प्राइवेट स्कूल ऑनलाइन क्लासेस अभी भी चला रहे हैं।
लखनऊर कोरोना महामारी की चेन तोड़ने के लिए योगी सरकार ने एक फैसला लिया था. सीएम योगी ने राज्य के सभी सरकारी और प्राइवेट इंस्टीट्यूट और कोचिंग सेंटर्स को 20 मई तक बंद रखने के निर्देश दिए थे. इस दौरान कोई भी ऑनलाइन क्लासेस संचालित नहीं की जानी है. आदेशानुसार प्रदेश भर के शिक्षण संस्थानों को 20 मई तक बंद कर दिया गया है. लेकिन, आदेश के बावजूद माध्यमिक शिक्षा के कई प्राइवेट स्कूल ऑनलाइन क्लासेस अभी भी चला रहे हैं।
ऐसे में लखनऊ के सभी माध्यमिक विद्यालयों के लिए जिला विद्यालय निरीक्षक ने निर्देश जारी कर दिए हैं. 20 मई तक सभी स्कूलों को बंद रखने और ऑनलाइन क्लासेज को स्थगित रखने के निर्देश जारी किए गए हैं. निरीक्षक ने कहा है कि प्राइवेट स्कूल लगातार मनमानी कर रहे हैं और ऑनलाइन क्लासेस संचालित करते हुए कोविड-19 के दिशानिर्देशों का लगातार उल्लंघन कर रहे हैं. अगर अबसे निर्देशों का पालन नहीं किया गया तो इन स्कूलों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।
यूपी में लगभग 27 दिनों के बाद कोरोना से राहत मिलती नजर आ रही है. बीते मंगलवार प्रदेश में 20463 नए कोरोना संक्रमित पाए गए, जबकि 306 मरीजों की मौत हुई. इससे पहले 14 अप्रैल वह दिन था जब 20 हजार की संख्या में (20,439) मरीज मिले थे मरीज मिले थे. मंगलवार की रिपोर्ट के अनुसार, प्रदेश में कोरोना के कुल 15,45,212 मामले आए हैं. इसके अलावा, राज्य में मौत का आंकड़ा 16,043 हो गया है।

83

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *